गहलोत सरकार का खास तोहफा, कोरोना के संकट में इनके खाते में डाले जाएंगे ₹42.78 करोड़, जानिए किनके खाते में आएंगे पैसे?

By | May 21, 2020

भारत देश कई सारी मुसीबतों के बावजूद आगे बढ़ रहा है, इस समय भारत में लॉकडाउन का चौथा दौर चल रहा है, अभी कई राज्य में कई सारी सुविधाएं शुरू कर दी है, जो राज्य ग्रीन जोन और ऑरेंज जोन में है, वहां पर लगभग सारी सुविधाएँ शुरू की है। कुछ सेवाएं अभी बंद लेकिन वो भी जल्द है शुरू कर दी जाएगी। इसी के चलते राजस्थान सरकार राज्य के लोगो के लिए कई सारी योजनाए भी लागु कर दी है।

और खाने पीने की समस्याओ को भी दूर कर दिया गया है, इसके लिए मुफ्त में राशन बांटा जा रहा है। हाल ही में गहलोत सरकार ने शिक्षा मंत्री को 1 लाख 2 हजार 624 बालिकाअेां को 42.78 करोड़ रूपये की राशि उनके बैंक अकाउंट में देने का निर्देश दिया है।

कोरोना के संकट में इनके खाते में डाले जाएंगे ₹42.78 करोड़,

कोरोना के संकट में इनके खाते में डाले जाएंगे पैसे

42.78 करोड़ रूपये की राशि के तहत राज्य की प्रतिभावान बालिकाओं की आगे की पढाई करने में मदद मिलेगी। बता दें, मंत्री गोविन्द सिंह जी ने बताया है की ये राशि बालिकाओं की पात्रता के आधार पर उनके खाते में पहुंचाई जाएगी। कक्षा 10वीं एवं कक्षा 12वीं परीक्षा 2019 में 75 प्रतिशत या इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाली बालिकाओं को गार्गी पुरस्कार एवं बालिका प्रोत्साहन पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। और उनके खाते में राशि स्थानान्तरित की जाएगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ हुई बैठक में यह तय किया गया की बालिका शिक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाये और उनकी शिक्षा में को रुकावट न आये।

कितनी राशि दी जाएगी बालिकाओं के खाते में

  • कक्षा 10वीं के आवेदन करने वाले पात्र 42 हजार 644 बालिकाएं थी, जिन्हे प्रति बालिका 3000 रूपये की राशि उनके बैंक अकाउंट में दी जा रही है। इसमें 12.79 करोड रुपये की राशि प्रदान की जा रही है।
  • कक्षा 12वीं की आवेदन करने वाली पात्र 59 हजार 980 बालिकाएं थी, जिन्हें प्रति बालिका 5000 रुपए की राशि उनके बैंक अकाउंट में दी जा रही है। इसमें 29.99 करोड रुपये की राशि प्रदान की जा रही है।

इसके अलावा आप इस लेख का अध्ययन करने के बाद एक बार संबंधित योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाये और वहां पर इसकी गाइडलाइन जरूर पढ़े। यह कोई आधिकारिक वेबसाइट नहीं है और न किसी मंत्रालय से लेना देना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *