आत्मनिर्भर भारत अभियान 2021 ऑनलाइन आवेदन (Aatm Nirbhar Yojana) लाभ व पात्रता

By | May 24, 2021

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan | आत्मनिर्भर भारत अभियान | आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Aatm Nirbhar Bharat | पीएम आत्म निर्भर भारत योजना

Summary – आत्मनिर्भर अभियान प्रधानमंत्री द्वारा 12 मई 2021 को घोषणा की गई जिसमें प्रधानमंत्री ने 20 लाख करोड़ का पैकेज जारी किया गया है भारत की जीडीपी का 10% है|

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan
Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan

प्रधानमंत्री मोदी के अनुसार देश में कोरोना के संकट से उबरने के लिए हमें आत्मनिर्भर होना ही पड़ेगा | पीएम मोदी द्वारा आर्थिक पैकेज देने की घोषणा किया जाना एक मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है क्योंकि कोरोना वायरस के चलते भारत के छोटे उद्योग से लेकर बड़े बड़े व्यापारियों तक इसका बहुत बुरा असर पड़ा है तथा निचले वर्ग के गरीब मजदूरों को दो वक्त की रोटी के लिए असमर्थ हैं | आत्मनिर्भर भारत अभियान 1.0 की सफलता के बाद भारत सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान 2.0 तथा आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 लॉन्च किया गया है। आज इस लेख में हम आपको इस अभियान से जुडी सभी महत्वपूर्ण जानकारी विस्तारपूर्वक साझा कर रहे हैं, इसलिए लेख पर आखिर तक बने रहें.

Aatm Nirbhar Abhiyan 3.0

आत्मनिर्भर भारत अभियान को भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस (Covid-19) के संक्रमण से निपटने के लिए शुरू किया गया था. अब तक इस अभियान के 2 फेज लांच किये जा चुके हैं अब आत्मनिर्भर भारत अभियान की तीसरी फेस लांच की गई है। जिसे Aatm Nirbhar Abhiyan 3.0 के नाम से जाना जाता है. इस फेज में कई तरह की योजनाएं सम्मिलित की गयी है, जिसमे नौकरी से लेकर व्यवसाय तक सभी क्षेत्रों को कवर किया गया है.

महत्वपूर्ण जानकारी आत्मनिर्भर भारत अभियान आर्थिक पैकेज

योजना का नामआत्मनिर्भर भारत अभियान
उद्देश्यआत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए
आरंभ की तिथि12 मई 2020
कितने फेस लांच किये गए 3
पैकेज की धनराशि20 लाख करोड़ रु
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://www.pmindia.gov.in/en/

ये भी पढ़ें: आत्मनिर्भर हरियाणा लोन योजना : छोटे व्यवसायी ले सकते हैं 15000 रूपए का लोन

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan (PM Modi आत्म निर्भर योजना) 2021

पीएम मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि यह 21वीं सदी का हिंदुस्तान है जिसे आत्मनिर्भर होना करोना महामारी ने समझा दिया आगे पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा करोना महामारी से पहले का भारत और बाद के भारत में यदि तुलना की जाए तो 21वीं सदी का भारत आत्मनिर्भर होगा|

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन एप्लीकेशन फॉर्म

यह भारत के लिए एक संकेत है संदेश है एक अवसर है आगे बढ़ने का! पीएम मोदी ने आगे कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हम सभी को एकजुट होना होगा जिससे आत्मनिर्भर भारत उभर कर आ सकेगा|

अब तक घोषित प्रोत्साहन का सारांश

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज1,92,800 करोड़ रुपए
आत्मनिर्भर भारत अभियान 1.011,02,650 करोड़ रुपए
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज अन्न योजना82,911 करोड़ रुपए
आत्मनिर्भर भारत अभियान 2.073,000 करोड़ रुपए
अर्जुन निर्मल भारत अभियान 3.02,65,080 करोड़ रुपए
RBI Measures12,71,200 करोड़ रुपए
टोटल29,87,641 करोड़ रुपए

Aatmnirbhar Bharat Contact Number ( Toll Free / Helpline )

केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत स्कूल और उच्च शिक्षण के लिए छात्र टोल फ्री नंबर 8448440632 जारी किया है. यदि किसी छात्र को पढ़ाई से सम्बंधित कोई परेशानी या दुविधा है तो वह इस टोल फ्री नंबर पर बात करके अपनी समस्या का समाधान पा सकते है.

ये भी पढ़ें: Pradhan Mantri Mudra Yojana – स्वंय का उद्योग शुरू करने के लिए ले सकते हैं 10 लाख रूपए तक का लोन ! जानिये कैसे

MSME के तहत की गयी घोषणाएं

  • MSMEs सहित व्यापार के लिए रुपये 3 लाख करोड़ संपार्श्विक नि: शुल्क स्वचालित ऋण
  • MSMEs के लिए 20000 करोड़ रूपए का अधीनस्थ ऋण
  • MSMEs के फंड के माध्यम से रुपए 50000 karod इक्विटी इन्फ्यूशन
  • ग्लोबल टेंडर 200 करोड़ रुपये तक का है
  • 3 और महीनों के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए 2500 करोड़ रुपये का ईपीएफ समर्थन
  • ईपीएफ अंशदान 3 महीने के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए कम हो गया
  • एनबीएफसीएस / एचसी / एमएफआई के लिए 30000 करोड़ रुपये की तरलता सुविधा
  • एनबीएफसी के लिए 45000 करोड़ रुपये की आंशिक क्रेडिट गारंटी योजना
  • DISCOM के लिए 90000 करोड़ रुपये की तरलता इंजेक्शन
  • टीडीएस / टीसीएस कटौती के माध्यम से 50000 करोड़ रुपये की तरलता

आत्मनिर्भर भारत अभियान के संकल्प (लाभ)

आर्थिक पैकेज गरीब मजदूरों से लेकर कर्मचारियों तक और होटल मालिकों, छोटे उद्योगों से लेकर बड़ी-बड़ी इंडस्ट्रीज तक जुड़े लोगों को फायदा होगा नीचे जानिए कि प्रधानमंत्री मोदी का आत्मनिर्भर भारत प्लान क्या है और 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज लाभ में किसे क्या मिलेगा?

  • अर्थव्यवस्था  (Economy)
  • आत्मनिर्भर (Self Independent)
  • प्रणाली (System)
  • मांग और आपूर्ति (Demand & Supply Chain)
  • जनसांख्यिकी (Demography)
  • आधारिक संरचना (better Infrastructure)

PM मोदी ने की 20 लाख करोड़ Package घोषणा

प्रधानमंत्री ने एक बात पर खास कर जोर दिया जिसमें उन्होंने कहा आज से हर भारतवासी को अपने लोकल के लिए “वोकल” बनना है ना सिर्फ लोकल प्रोडक्ट्स को खरीदना है बल्कि उनका गर्व से प्रचार भी करना है साधारण भाषा में कहा जाए तो हमें स्वदेशी प्रोडक्ट्स को ज्यादा से ज्यादा यूज करना है और औरों को स्वदेशी प्रोडक्ट खरीदने के लिए प्रेरित करना है|

आर्थिक पैकेज से किस सेक्टर को कितना फायदा:

  • 10 करोड़ मजदूरों को लाभ होगा
  • 11 करोड़ कर्मचारियों को फायदा होगा
  • होटल और पर्यटन इंडस्ट्री से जुड़े 3.8 करोड़ लोगों को लाभ पहुंचेगा।
  • टेक्सटाइल इंडस्ट्री से जुड़े 4.5 करोड़ कर्मचारियों को इस आर्थिक पैकेज से राहत मिलेगी।

आत्मनिर्भर भारत अभियान स्टैटिसटिक्स

हाउसिंग फॉर ऑल (शहरी)18000 करोड़
बूस्ट फॉर रूरल एंप्लॉयमेंट10 हजार करोड़
R&D ग्रांट फॉर COVID सुरक्षा-इंडियन वैक्सीन डेवलपमेंट900 करोड़
इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर, इंडस्ट्रियल इंसेंटिव एंड डोमेस्टिक डिफेंस इक्विपमेंट10200 करोड़
बूस्ट फॉर प्रोजेक्ट एक्सपोर्ट3000 करोड़
बूस्ट फॉर आत्मनिर्भर मैन्युफैक्चरिंग1,45,980 करोड
सपोर्ट फॉर एग्रीकल्चर65 हजार करोड़
बूस्ट फॉर इंफ्रास्ट्रक्चर6000 करोड़
आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना6000 करोड़
टोटल2,65,080 करोड

यह जरूर देखें –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *