अंत्योदय अन्न योजना (AAY) के नए नियम जारी, अब दिव्यांगों को भी मिलेगा 35 किलो अनाज

By | October 5, 2020

केंद्र सरकार ने अंत्योदय अन्न योजना (Antyoday Anna Yojna) के नियमों में बदलाव किये हैं, जिसकी जानकारी केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने ट्वीट करके दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा की दिव्यांग व्यक्तियों को राशन योजना का लाभ नहीं मिल रहा है, इस सम्बन्ध में माननीय दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेशों को मैंने गंभीरता से लिया है, और सभी राज्य सरकारों को आदेश दिया गया है की, दिव्यांगों को अंत्योदय अन्न योजना में शामिल किया जाए.

केंद्र सरकार द्वारा अंत्योदय अन्न योजना (AAY) की शुरुआत 25 दिसंबर 2000 को की गयी थी. इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से निचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को 35 किलोग्राम गेंहू, चावल एवं अन्य राशन सामग्री सस्ती दरों पर उपलब्ध कराई जाती है.

उज्ज्वला योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशनPradhan Mantri Fasal Bima Yojana Form
प्रधानमंत्री किसान मानधन योजनाप्रधानमंत्री रोजगार योजना

केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने ट्वीट करके जानकारी दी की अंत्योदय अन्न योजना से दिव्यांगों को 35 किलो अनाज प्रति परिवार प्रति माह मिल सकेगा. अंत्योदय अन्न योजना (AAY) राशन कार्ड, और प्राथमिकता वाले परिवार (PHH) राशन कार्ड के अंतर्गत लाभार्थी कौन होंगे, इसकी जवाबदेही राज्य सरकार पर है.

अंत्योदय अन्न योजना (AAY) के नए नियम जारी, अब दिव्यांगों को भी मिलेगा 35 किलो अनाज

अंत्योदय अन्न योजना उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के तहत दस लाख गरीब परिवारों के लिए शुरू की गई है. केंद्रीय खाद्य मंत्री श्री राम विलास पासवान ने अपने ट्वीट में लिखा है, वर्ष 2003 में Antyodya Anna Yojana में विस्तार करते हुए, दिव्यांगजनों को भी इसमें शामिल करने के निर्देश दिए गए था, सभी राज्य सुनिश्चित करे की कोई भी दिव्यांग इससे वंचित न रहे.

राज्य सरकारों से आग्रह है की, दिव्यांगजनों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) और आत्मनिर्भर राहत पैकेज के तहत दी जाने वाली प्रति व्यक्ति 5 किलोग्राम अतिरिक्त मुफ्त अनाज वितरण का भी समुचित लाभ सुनिश्चित करें.

क्या है अंत्योदय अन्न योजना (AAY)

  • अंत्योदय अन्न योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2000 में की गयी थी.
  • इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से निचे जीवन-यापन करने वाले परिवारों को शामिल किया जाता है
  • वर्ष 2003 में इस योजना का विस्तार करते हुए केंद्र सरकार दिव्यांगजनों को भी इस योजना में शामिल किया.
    -Antyodya Ann Yojana के अंतर्गत लाभार्थी को 35 किलो अनाज दिया जाता है, जिसमे 2 रूपए प्रति किलो की दर से गेंहू एवं 3 रूपए प्रति किलो की दर से चावल प्रदान किया जाता है.
  • इस योजना में शामिल होने के लिए लाभार्थी को अपने क्षेत्र के पटवारी द्वारा जारी किया गया आय प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करना होता है, साथ उसे यह भी दिखाना होता है, की उसके पास पहले से कोई राशन कार्ड तो नहीं है.
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को किसी भी प्रकार का शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन आईडी प्रूफ एवं एड्रेस प्रूफ पेश करना होता है.

यह भी पढ़ें: Pradhan Mantri Mudra Yojana – स्वंय का उद्योग शुरू करने के लिए ले सकते हैं 10 लाख रूपए तक का लोन ! जानिये कैसे
यह भी पढ़ें: Pradhan Mantri Awas Yojana 2020 |पीएम आवास योजना 2020 हर गरीब को ₹2.5 लाख मिलेंगे, जानिए कैसे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *