बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना: ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म पीडीऍफ़ | आवेदन फॉर्म, पात्रता

By | October 13, 2020

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का शुभारम्भ 22 जनवरी को 2015 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया किया गया. इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य लड़कियों के जीवन स्तर को ऊँचा उठाना है, तथा बेटियों के प्रति समाज में फैली नकारत्मक भावना को सकारात्मक में बदलना हैं, एवं भ्रूण हत्या एवं बाल विवाह जैसे अपराधों पर लगाम लगाना है.

Beti Bachao Beti Padhao Yojana के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आपको अपनी बेटी का बैंक अकाउंट खुलवाना होगा. यह बैंक अकाउंट जन्म से 10 वर्ष की आयु तक किसी भी सरकारी बैंक अथवा पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते हैं.

Beti Bachao Beti Padhao Scheme 2020

इस योजना के अंतर्गत आपको अपनी बेटी के बैंक खाते में जन्म से लेकर 14 वर्ष तक धनराशि जमा करानी होगी. इसके बाद बेटी के 18 वर्ष पूर्ण होने पर आप कुल राशि का 50% बेटी की पढ़ाई के लिए निकल सकते हैं. एवं 21 वर्ष बाद बेटी के विवाह के समय पूरी धनराशि निकाल सकते हैं. दोस्तों, इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े, इस लेख में हम प्रधानमंत्री बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं योजना से सम्बंधित सभी जानकारी शेयर करने जा रहें है.

यह भी पढ़ें: Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana (PMMVY): गर्भवती महिलाओं को सरकार देगी 6000 रूपए, ऐसे करें आवेदन

वैधानिक चेतावनी – बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना

दोस्तों, इस योजना की बढ़ती लोकप्रियता के कारण कई प्रकार के असामाजिक तत्व लोगों के साथ ठगी करने लगे है. सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके अंतर्गत दावा किया जा रहा है की सरकार द्वारा 200000 रूपए की मदद इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को प्रदान की जायेगी. ऐसा दावा करके फॉर्म बेचने वाले लोग फ्रॉड हैं, आप उनकी बातों में न आएं.

Key Highlights Of Beti Bachao Beti Padhao Scheme

योजना का नाम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ
किसके द्वारा शुरू की गयी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
कब शुरू की गयी 22 जनवरी 2015
उद्देश्य लड़कियों के जीवन स्तर को ऊपर उठाना
विभाग महिला और बाल विकास मंत्रालय
ऑफिसियल वेबसाइट https://wcd.nic.in/

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का उद्देश्य

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का मुख्य उद्देश्य लड़कियों का जीवन स्तर सुधारना एवं भ्रूण हत्या, बाल विवाह जैसे अपराधों पर रोक लगाना हैं. इस योजना के अंतर्गत बेटियों के भविष्य को उज्जवल बनाना एवं उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाना एवं पुरुष एवं महिला लिंगानुपात को समान करना है.

Beti Bachao Beti Padhao योजना के लाभ

  • इस योजना के जरिये भ्रूण हत्या को रोका जा सकता है.
  • इस योजना के जरिये बेटियों की शिक्षा एवं विवाह के लिए आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना है.
  • पुरुष एवं महिला लिंगानुपात को बराबर करना है.
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको अपनी बेटी के नाम से बैंक अकाउंट खुलवाना है.
  • बैंक अकाउंट जन्म से लेकर 10 वर्ष की उम्र तक खुलवाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: Himachal Pradesh Beti Hai Anmol Yojana – बेटी के जन्म पर मिलेंगे 10000 रूपए, ऐसे करें आवेदन

पात्रता

  • बेटी के नाम से जन्म से लेकर 10 वर्ष की उम्र तक खाता खुलवाना अनिवार्य है.
  • बेटी भारत की स्थाई निवासी होने चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • माता पिता का पहचान पत्र
  • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना में आवेदन कैसे करे?

  • बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं योजना में आवेदन करने के लिए सर्वप्रथम आपको अपने नज़दीकी बैंक या पोस्ट में जाना होगा.
  • अब आपको इस योजना के तहत अकाउंट खुलवाने के लिए एप्लीकेशन फॉर्म लेना होगा.
  • अब आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी सही-सही भरें.
  • सभी जानकारी भरने के बाद आवेदन फॉर्म के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज अटैच करें.
  • अब आपको फॉर्म को किसी सरकारी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करा दें.
  • इस प्रकार आप इस योजना में आवेदन कर सकते है.

यह भी पढ़ें:

Shramik Bharan Poshan Yojana : श्रमिक भरण पोषण योजना के तहत श्रमिकों को सरकार देगी राशन और 1000 रुपए, ऐसे करें आवेदन

Viklang Free Scooty Vitran Yojana : इस योजना से विकलांगो को मिलेगी तीन पहिया स्कूटी वाहन, जानिए कैसे ले लाभ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *