Bhavantar Bhugtan Yojana 2021 – भावांतर भरपाई योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

By | January 7, 2021

Bhavantar Bhugtan Yojana: जैसा कि सभी जानते हैं कि भारत एक कृषि प्रधान देश है। यहां अधिकतर जनसंख्या कृषि के ऊपर निर्भर रहती है, लेकिन इसके बाद भी किसानों की हालत बहुत ही ख़राब है, क्योंकि अभी भी भारत देश में अधिकांश किसान आत्महत्या कर लेते हैं, क्योंकि उनके पास उचित साधन है, और कर्ज में डूबे हुए होने के कारण, वह ऐसा कर लेते हैं। इसलिए सरकार ने देश की किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधार करने के लिए एक नई योजना लागू की है। आइये जानते है, कि किसानो के लिए क्या योजना लागु है।

भावांतर भरपाई योजना क्या है? (Bhavantar Bhugtan Yojana)

बता दें इस योजना की शुरुआत हरियाणा राज्य में वर्ष 2018 में शुरू की गई थी, जोकि हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर खट्टर के द्वारा लागू की गई थी। इस योजना का नाम है भावांतर भरपाई योजना। Bhavantar Bhugtan Yojana के माध्यम से सरकार किसानों को उनकी फसलों से हुए नुकसान की भरपाई सरकार द्वारा की जाएगी। किसान अपनी फसल को समय बेचते समय जो पैसा मिलता है, अगर वह पैसा फसलों को तैयार करने में जो खर्च होता है, उससे यदि कम पैसा होता है, तो उसकी भरपाई सरकार द्वारा की जाएगी। आइए जानते हैं, भावांतर भरपाई योजना की मुख्य बातें क्या है?

Bhavantar Bhugtan Yojana

भावांतर भरपाई योजना की मुख्य विशेषताएं:-

हरियाणा सरकार द्वारा सभी किसानों को इस योजना के माध्यम से हर क्षेत्र में सशक्त बनाया है। इसके अंतर्गत ना केवल सब्जियों की कीमत को तय किया जाएगा, अपितु किसान को अन्य क्षेत्र में सशक्त बनाने का प्रयास भी किया जाएगा।

इस योजना (Bhavantar Bhugtan Yojana) के अंतर्गत हर वर्ग के किसानों को सम्मिलित किया जाएगा, इसके अंतर्गत किसान कोई भी पारंपरिक और विदेशी फसल उगाता है तब भी इस योजना का लाभ ले सकता है। इस योजना के माध्यम से किसानों की कमाई का जरिया बढ़ेगा, जिससे फसल को बाजार के मूल्य से अधिक दामों पर भी भेज सकता है।

टमाटर, गोभी, प्याज व आलू की फसल का पंजीकरण

इस योजना के माध्यम से चार मुख्य सब्जियों का चुनाव किया जाएगा, जिसकी बेसिक प्राइस सरकार द्वारा तुरंत तय की जाएगी, जिसमें आलू, टमाटर, प्याज, और गोभी मुख्य सब्जियां शामिल है। बता दे अब इस योजना में अब गाजर, मटर, भिंडी, शिमला मिर्च, और बैगन को भी जोड़ दिया गया है।

भावांतर भरपाई योजना संरक्षित मूल्य एवं निर्धारित उत्पादन।

क्रं सख्या फसल का नाम संरक्षित मूल्य(रुपये प्रति क्विंटल ) निर्धारित उत्पादन(क्विंटल प्रति एकड़)
1. आलू 500 120
2. प्याज 650 100
3. टमाटर 500 140
4. फूलगोभी 750 100
5. किन्नू 1100 104
6. गाजर 700 100
7. मटर 1100 50

बता दें इस योजना के माध्यम से किसान अपनी फसल को किसी अन्य बाजारों में भी बेच सकता है. ताकि वह अपनी फसल की अच्छी कीमत प्राप्त कर सकें। इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि यदि किसी किसान को अपनी फसल से नुकसान हुआ हो, या उसकी फसल की लागत निकलने में असमर्थ है तो उसकी फसल के नुकसान भरपाई सरकार द्वारा की जाएगी।

प्रोत्साहन नीचे तालिका में दर्शायी बिक्री अवधि के दौरान मान्य।

क्रं सख्या फसल का नाम पंजीकरण अवधि सत्यापन अवधि सत्यापन इत्यादि के विरुद्ध अपील अवधि बिक्री अवधि
    आरंभ तिथि समापन तिथि तक तक दौरान
1. आलू 15 सितंबर 31 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 31 मार्च
2. प्याज 15 दिसम्बर 15 फरवरी 15 मार्च 25 मार्च 1 अप्रैल – 31 मई
3. टमाटर 15 दिसम्बर 15 फरवरी 15 मार्च 25 मार्च 1 अप्रैल- 15 जून
4. फूलगोभी 15 सितंबर 31 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 31 मार्च
5. किन्नू 1 सितंबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 31 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 28 फरवरी
6. गाजर 1 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 31 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 28 फरवरी
7. मटर 1 अक्तूबर 30 नवम्बर 15 दिसम्बर 31 दिसम्बर 1 दिसम्बर – 28 फरवरी

खरीफ की फसल 2021 के समर्थन मूल्य सूची

  • सोयाबीन – 3,399 रुपए प्रति क्विंटल (500 रु/ क्विंटल फ्लेट भावांतर मिलेगा)
  • मक्का – 1,700 रुपए प्रति क्विंटल (500 रु/ क्विंटल फ्लेट भावांतर मिलेगा)
  • धान – 1750 रुपए प्रति क्विंटल
  • धान ग्रेड ए – 1770 रुपए प्रति क्विंटल
  • ज्वार हाईब्रिड – 2430 रुपए प्रति क्विंटल
  • ज्वार मालडंडी – 2450 रुपए प्रति क्विंटल
  • बाजरा – 1950 रुपए प्रति क्विंटल
  • अरहर – 5675 रुपए प्रति क्विंटल
  • कपास मध्यम रेसा – 5150 रुपए प्रति क्विंटल (500 रु/ क्विंटल फ्लेट भावांतर मिलेगा)
  • कपास लंबा रेसा – 5450 रुपए प्रति क्विंटल (500 रु/ क्विंटल फ्लेट भावांतर मिलेगा)
  • तुअर – 5675 रुपए प्रति क्विंटल
  • उड़द – 5,600 रुपए प्रति क्विंटल
  • मूँग- 6,975 रुपए प्रति क्विंटल
  • मूँगफली – 4,890 रुपए प्रति क्विंटल
  • तिल – 5,675 रुपए प्रति क्विंटल
  • रामतिल – 5,877 रुपए प्रति क्विंटल

रबी की फसल 2021 के समर्थन मूल्य सूची

  • लहसुन – 3200 रुपए प्रति क्विंटल (अनुमानित)
  • चना – 4,400 रुपए प्रति क्विंटल
  • मसूर – 4,250 रुपए प्रति क्विंटल
  • सरसों – 4,000 रुपए प्रति क्विंटल
  • प्याज – 8 रुपए प्रति किलो (अनुमानित)
  • तुअर मॉडल रेट = 3860 रु/ कुंतल (1 से 30 अप्रैल 2018 के लिए )
  • गेहूं का समर्थन मूल्य =  2000 रुपए/ क्विंटल

भावांतर भुगतान योजना के दस्तावेज़ एवं पात्रता (Required Document and Eligibility Criteria)

  • आवेदक किसान एवं मध्य प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए.
  • इस स्कीम में आवेदन करने के लिए आवेदक के पास समग्र आईडी एवं आधार कार्ड होना अनिवार्य है.
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण-पत्र
  • जमीन से सम्बंधित दस्तावेज
  • सिकमी/पट्टा भूमि के मामले में, प्राधिकरण का पत्र और मूल भूमि मालिक की ऋण पासबुक
  • बैंक खाते का विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Bhavantar Bharpai Yojana में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप को फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले आपको हरियाणा सरकार की भावांतर भरपाई हरियाणा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। जिसका लिंक https://ekharid.in/ यह है।
  • आपके सामने होम पेज (home page) ओपन होगा।
  • अब आपको होम पेज के राइट साइड में एक विकल्प दिखाई देगा, जिसमें लिखा हुआ
  • “किसान पंजीयन करें” (kisan panjikaran) इस विकल्प पर आपको क्लिक करना होगा।
  • जैसे आप इस पर क्लिक करते हैं, तो आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • फॉर्म में उपस्थित सभी जानकारी को सही सही भरना है।
  • सभी जानकारी सही-सही भरने के बाद, आपको सबमिट बटन या सेव बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सबमिट बटन क्लिक करने के बाद, आपका फॉर्म कंप्लीट हो जाएगा।
  • इसका प्रिंट आउट प्राप्त कर लें, ताकि आपको भविष्य में काम आ सके।
    इस तरह आप ऑनलाइन भावांतर भरपाई योजना में आवेदन कर सकते हैं।

संपर्क सूत्र (Contact Us)

किसान भाइयों यदि आपको इस योजना के सम्बन्ध में किसी भी प्रकार की कोई समस्या या परेशानी आ रही है तो आप निचे दिए गए नंबरों पर कॉल करके अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं:-

क्रमांकअधिकारी का नामपदनिवास स्थानकार्यालयनिवासमोबाईलई-मेलफैक्स
1श्री कमल पटेलमंत्री, किसान कल्‍याण तथा कृषि विकासबी-10, चार इमली (VB-II, B-427), भोपाल7089443918[email protected]
2श्री गिर्राज दंडोतियाराज्‍य मंत्री, किसान कल्‍याण तथा कृषि विकासमंत्रालय कक्ष क्र.-540, VB-1, भोपाल9425134675
3श्री के. के. सिंहअपर मुख्‍य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्तडी-3/24, चार इमली, भोपाल (VB-1/412)0755244160707552429280[email protected]
4श्री अजीत केसरीप्रमुख सचिवडीएक्सडी-3, चार इमली, भोपाल (VB-1/2nd-F)07552430163 (Tata-2238)075524229669424440000[email protected] [email protected]
5श्री दिलीप कुमारउप सचिवए-133, सिद्धार्थ लेक सीटी, आनंद नगर (मंत्रालय कक्ष क्र.-63,VB-1)07552512033(Tata-2033)9425117898[email protected]
6सुश्री बबीता वसुनियाअवर सचिवएफ-119/48, शिवाजी नगर, भोपाल07552767156 (Tata-2197)9009690297[email protected]
7श्री प्रकाश कुमार माखीजाअवर सचिवएफ-50/13, तुलसी नगर, भोपाल07552579727 (Tata-2203)9425468733[email protected]
8श्री जितेन्‍द्र सिंह परिहारअवर सचिवएफ-120/10, शिवाजी नगर, भोपाल07552579727 (Tata-2203)9424345454[email protected]
9श्रीमती अन्‍नपूर्णा मिसालस्‍टाफ आफीसर (एपीसी)भोपाल0755 2441607 (Tata-2470)
10श्री प्रशांत मुंंडलेजिन सहायक (एपीसी)भोपाल07552441607 (Tata-2470)9424417479
11श्री राजू डहेरियानिज सहायक (एपीसी)91/4, तुलसी नगर, भोपाल07552441607 (Tata-2470)7974461768
12श्री रमेश जयसिंघानीनिज सहायक (प्र.स.)भोपाल (मंत्रालय कक्ष क्र.215)07552430163 (Tata-2301)[email protected]
13श्री दीपक सिंह ठाकुरनिज सहायक (प्र.स.)भोपाल (मंत्रालय कक्ष क्र.215)07552430163 (Tata-2301)[email protected]
14श्री राजेन्‍द्र कुमार गुप्‍तानिज सहायकडी-3/561, दानिश नगर, होशंगाबाद रोड़07552579727[email protected]

Important Link

किसान पंजीकरण फॉर्म पीडीऍफ़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *