इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022: छोटे व्यापारियों को सरकार दे रही है 50000/- रूपए का ब्याज मुक्त लोन

By | March 21, 2022

जैसा की आप सभी जानते है की, कोरोनावायरस का असर देश के प्रत्येक व्यक्ति पर हुआ है, निम्न आय वर्ग एवं छोटे व्यापारियों पर इसका असर कुछ ज्यादा है। कोरोनावायरस संक्रमण से कई लोगों का रोजगार प्रभावित हुआ है। इसी बीच राजस्थान सरकार द्वारा शहरी क्षेत्र के स्ट्रीट वेन्डर तथा सर्विस सेक्टर के युवाओं को स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 लागू की गई है। योजना के माध्यम से लाभार्थियों को 50 हजार रुपये तक का ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा। दोस्तों, इस लेख में हम आपको Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2022 से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे यह योजना क्या है? योजना में आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, लाभ एवं उद्देश्य आदि प्रदान करने जा रहें हैं, इसलिए पूरी जानकारी करने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2022

इस योजना के अंतर्गत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण बेरोजगार हुए छोटे व्यापरियों, स्ट्रीट वेंडर, तथा असंगठित क्षेत्र में सेवा प्रदान करने वाले नागरिकों को स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए 50000/- रूपए का लोन मुहैया कराया जाएगा। यह ऋण ब्याज मुक्त होगा तथा लोन लेने के लिए किसी भी प्रकार की गारंटी की आवश्यकता नहीं होगी। इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना एक वर्ष के लिए लागू होगी तथा 31 मार्च 2022 तक इस स्कीम में आवेदन किया जा सकता है। ऋण के पुनर्भुगतान की अवधि 12 माह तथा मोरेटोरियम 3 माह होगी। Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2022 के अंतर्गत आर्थिक संकट से जूझ रहे स्ट्रीट वेंडरों तथा छोटे व्यापारियों को आर्थिक सम्बल मिलेगा।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 का संस्थागत ढांचा

दोस्तों इस योजना के उचित कार्यान्वयन के लिए इस योजना के नोडल अधिकारी जिला कलेक्टर होंगे एवं उपखण्ड अधिकारी द्वारा लाभार्थियों का सत्यापन किया जाएगा। इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 के अंतर्गत “पहले आओ पहले पाओ” के आधार पर लगभग 5 लाख छोटे व्यापारियों को ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। ऋण की राशि का भुगतान 12 समान किस्तों में किया जाएगा। लाभार्थी डेबिट या क्रेडिट कार्ड माध्यम ऋण की राशि निकाल सकते हैं।

Mukhymantri Yuva Sambal Yojana Rajasthan

Key Highlights Of Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2022

योजना का नाम इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना
किसके द्वारा शुरू की गयी राजस्थान सरकार
उद्देश्य ऋण उपलब्ध कराना
लाभार्थी राजस्थान के नागरिक
ऋण की राशि ₹50000
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन/ऑफलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट अभी लांच नहीं की गयी

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना का उद्देश्य

इस योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य उन लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है, जिन्होंने कोरोनावायरस संक्रमण के कारण अपना रोजगार खो दिया है, ताकि वह इस स्कीम के अंतर्गत आर्थिक मदद प्राप्त करके स्वयं का रोजगार स्थापित कर सके। इस स्कीम के अंतर्गत बेरोजगारी की दर एवं कोरोना वायरस के कारण जो हालात उत्पन्न हुए है उन्हें कम करना है। इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 अंतर्गत पात्र नागरिक इस स्कीम में आवेदन करके इस योजना से लाभान्वित होकर स्वरोजगार से जुड़ सकते है। इस योजना से नागरिक आत्मनिर्भर बनेंगे, एवं उनके जीवन स्तर में सुधार होगा, एवं बेरोजगारी की दर कम होगी हैं, एवं नए रोजगारों का सृजन होगा।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के लाभार्थी

  • हेयरड्रेसर
  • रिक्शावाला
  • कुम्हार
  • खाती मोची
  • मिस्त्री
  • दर्जी
  • धोबी
  • रंग पेंट करने वाले
  • नल बिजली की मरम्मत करने वाले आदि

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2022

Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2022 के लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना को राजस्थान सरकार द्वारा शुरू किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत ऐसे नागरिक जिन्होंने कोरोना संक्रमण के कारण अपना रोजगार खो दिया है, वह 50000 रूपए का ऋण (Loan) प्राप्त कर सकते हैं।
  • Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana के अंतर्गत दिया जाने वाला ऋण पूरी तरह से ब्याज मुक्त होगा, एवं लोन प्राप्त करने के लिए आपको किसी भी प्रकार की गारंटी देने की आवश्यकता नहीं है।
  • योजना के अंतर्गत प्राप्त किये गए ऋण का भुगतान 1 वर्ष के भीतर करना होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का सत्यापन उपखण्ड अधिकारी (SDM) द्वारा किया जायेगा, एवं नोडल अधिकारी जिला कलेक्टर होंगे।
  • यह 100% राजस्थान राज्य सरकार द्वारा वित्त पोषित योजना है।
  • इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को क्रेडिट कार्ड प्रदान किया जाएगा, जिसके माध्यम से वह पैसे निकाल सकेंगे।
  • लगभग 5 लाख लाभार्थियों को इस स्कीम के अंतर्गत ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से “पहले आओ पहले पाओ” के आधार पर ऋण प्रदान किया जायेगा।
  • कोरोना वायरस के कारण बेरोजगार हुए युवा इस स्कीम के अंतर्गत लोन प्राप्त करके स्वयं का कारोबार स्थापित कर सकेंगे।
  • प्रदेश में बेरोजगारी की दर में गिरावट होगी, एवं रोजगारोन्मुखी कार्यक्रमों का विकास होगा।
  • इससे कोरोनावायरस के कारण उत्पन्न हुए हालातों को कम करने में सहायता मिलेगी।
  • यह योजना एक वर्ष के लिए लागू होगी तथा 31 मार्च 2022 तक इस योजना के अंतर्गत ऋण स्वीकृत किये जाएंगे।
  • ऋण के मोरेटोरियम की अवधि 3 माह तथा ऋण पुनर्भुगतान की अवधि 12 माह की होगी।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना की पात्रता

  • आवेदक राजस्थान राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी है।
  • आवेदक की मासिक आय 15000/- रूपए एवं परिवार की मासिक आय 50000/- रूपए या इससे कम होनी चाहिए।
  • वह सभी व्यापारी जो सर्वे के दौरान छूट गए है या शहरी निकाय द्वारा जिन छोटे व्यापारियों को प्रमाण पत्र दिया गया है, वह इस योजना के पात्र है।

Indira Gandhi Shehri Credit Card Yojana 2022 में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक की फोटोकॉपी
  • हाल ही में खिंचा गया साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 में आवेदन कैसे करें?

इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन केवल वेब पोर्टल अथवा एन्ड्रोइड एप के माध्यम से ऋण संबधित आवेदन स्वीकार की जाएंगे। इस संबंध में लाभार्थी ई – मित्र कियोस्क की सहायता ले सकते है। आवेदकों के मार्गदर्शन एवं शिकायत निवारण के लिए स्थानीय निकाय विभाग के स्तर पर एक हेल्प डेस्क भी बनाई जाएगी। योजना के क्रियान्वयन में तत्संबंधी व्याख्या के लिए वित्त विभाग सक्षम होगा।

2 thoughts on “इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2022: छोटे व्यापारियों को सरकार दे रही है 50000/- रूपए का ब्याज मुक्त लोन

  1. Sonu Maithil

    Any scheme in madhya pradesh for middle class business, if have any then please update.

    Reply
  2. Vikash sharma

    Bank wale dene ko teyar hee nhi hai hamne foram bhara ki pese mill jayege to kuch kar lege per bank wale sawalo ko puchte hai aur dene ko teyar hee nhinhai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.