(पंजीकरण) राजस्थान मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन फॉर्म Pdf, RMCBKY Scheme Apply Now मिलेंगे 5 लाख रूपए

By | June 15, 2021

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने राजस्थान में कोरोना संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चो एवं विधवा हुई महिलाओं के लिए एक खास स्कीम का ऐलान किया है. इस योजना का नाम मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना है. इस योजना का क्रियान्वयन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा किया जा रहा है. इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा कोरोना पीड़ित अनाथ बच्चों एवं विधवा महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जायेगी. इस लेख में हम आपको Rajasthan Mukhyamantri Corona Bal Kalyan Yojana 2021 से जुडी सभी महत्वपूर्ण जानकारी एवं योजना के अंतर्गत मिलने वाले आर्थिक लाभ के बारे में जानकारी साझा कर रहें हैं, इसलिए पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

Rajasthan Mukhyamantri Corona Bal Kalyan Yojana 2021

मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021 के अंतर्गत जिन बच्चों के माता-पिता दोनों की मृत्यु हो गयी है, ऐसे बच्चों को राज्य सरकार द्वारा तुरंत 1 लाख रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जायेगी, साथ ही 18 की आयु पूर्ण होने तक 2500 रूपए प्रतिमाह भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया जाएगा। 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर एकमुश्त 5 लाख रूपए प्रदान किये जाएंगे. 12वीं तक पढ़ाई आवासीय विद्यालय या छात्रावास के जरिये सरकार फ्री कराएगी.

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण जिन महिलाओं के पति की मृत्यु हो चुकी है उन्हें Rajasthan Mukhyamantri Corona Bal Kalyan Yojana 2021 के अंतर्गत तत्काल एक लाख रूपए की मदद प्रदान की जायेगी, साथ ही 1500 रूपए प्रतिमाह पेंशन प्रदान की जायेगी. यदि विधवा महिला के बच्चे है तो उन्हें 1000 रूपए प्रतिमाह प्रदान किया जाएगा, इसके अलावा स्कूल ड्रेस एवं किताबें खरीदने के लिए सालाना 2000 रूपए अलग से प्रदान किये जाएंगे.

mukhymantri corona bal kalyan yojana

Key Highlights of Mukhymantri Corona Bal Kalyan Yojana 2021

योजना का नाम मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना
किसके द्वारा शुरू की गयी राजस्थान सरकार
विभाग सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग
उद्देश्य कोरोना से पीड़ित अनाथ एवं विधवा महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
लाभार्थी प्रदेश के कोरोना पीड़ित अनाथ बच्चे एवं विधवा महिलाएं
आर्थिक लाभ बच्चों को बालिग़ होने तक हर महीने 2500 रूपए,
18 वर्ष पूर्ण होने पर एकमुश्त 5 लाख रूपए।
विधवा महिलाओं को 1500 रूपए पेंशन
ऑफिसियल वेबसाइट जल्द लांच की जायेगी।

राजस्थान मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना का उद्देश्य

इस योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों एवं विधवा महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना है. ताकि वह अच्छे से अपना जीवन-यापन कर सके एवं आत्मनिर्भर एवं सशक्त बन सके. योजना के अंतर्गत अनाथ बच्चों को 1 लाख रूपए की तत्काल सहायता एवं 2500 रूपए प्रतिमाह भरण पोषण भत्ता एवं विधवा महिलाओ को 1 लाख रूपए तत्काल सहायता एवं 1500 रूपए पेंशन प्रदान की जायेगी.

राजस्थान किसान मित्र ऊर्जा योजना 2021

Mukhymantri Corona Bal Kalyan Yojana 2021 के लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने की है.
  • राजस्थान मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना का संचालन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा किया जाएगा.
  • योजना के अंतर्गत कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अपने माता-पिता या अभिभावक को खो चुके अनाथ बच्चों को 1 लाख रूपए तत्काल सहायता एवं 2500 रूपए प्रतिमाह 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने तक प्रदान किये जाएंगे.
  • बेरोजगार युवाओं को सम्बल योजना के अंतर्गत बेरोजगारी भत्ता प्रदान किया जाएगा.
  • कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अपने पति को खो चुकी विधवा महिलाओं को 1 लाख रूपए एकमुश्त एवं 1500 रूपए प्रतिमाह पेंशन प्रदान की जायेगी.
  • इस योजना के अंतर्गत प्राप्त आर्थिक लाभ से अनाथ बच्चे एवं विधवा महिलाएं आत्मनिर्भर एवं सशक्त बन सकेंगे.

राजस्थान में कोरोना पीड़ित अनाथ बच्चों एवं विधवा महिलाओं को दी जाने वाली आर्थिक सहायता

अनाथ बच्चों को मिलेगी ये सुविधाएं

  • तत्काल 1 लाख रूपए की सहायता राशि मिलेगी।
  • 18 वर्ष की आयु होने तक हर महीने 2500/- रूपए मिलेंगे।
  • 18 वर्ष की उम्र पूरी होने पर एकमुश्त 5 लाख रूपए की सहायता।
  • कॉलेज में पढ़ने वाली बच्चियों को सरकारी हॉस्टल में प्रवेश।
  • 12वीं तक पढ़ाई आवासीय विद्यालय या छात्रावास के जरिए सरकार फ्री कराएगी।
  • कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों को डीबीटी वाउचर योजना का लाभ।
  • बेरोजगार युवाओं को मुख्यमंत्री युवा संबल योजना के तहत बेरोजगारी भत्ता दिए जाने में प्राथमिकता दी जाएगी।

विधवा महिलाओं के लिए ये सुविधा

  • एक लाख रूपए की एकमुश्त सहायता मिलेगी।
  • 1500 रूपए प्रतिमाह विधवा पेंशन तत्काल स्वीकृत होगी।
  • विधवा महिलाओं के बच्चों को 1000 रूपए प्रतिमाह सहायता।
  • स्कूल की यूनिफार्म एवं किताबें खरीदने के लिए 2000 रूपए सालाना।

राजस्थान विधवा/परित्यक्ता मुख्यमंत्री (बी.एड.) संबल योजना

मुखयमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना की पात्रता

  • आवेदक राजस्थान राज्य का मूल निवासी होना चाहिए.
  • ऐसे अनाथ बच्चे जिन्होंने माता-पिता दोनों को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण खो दिया है.
  • ऐसी विधवा महिलाएं जिनकी पति की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हुई हो.

Mukhymantri Corona Bal Kalyan Yojana 2021 हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण-पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र (जन्मतिथि)
  • आय प्रमाण-पत्र
  • माता-पिता/पति की मृत्यु का सर्टिफिकेट
  • बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

राजस्थान मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021 में आवेदन की प्रक्रिया

कोरोना पीड़ित अनाथ बच्चे एवं विधवा महिलाएं जो मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021 में आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा. अभी इस योजना की घोषणा की गयी है एवं आवेदन संबंधी कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किये गए है. जैसे सरकार द्वारा आवेदन प्रक्रिया शुरू की जायेगी हम आपको इस लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे. इसलिए योजना से सम्बंधित अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर समय पर विजिट करते रहें.

(RajSSP) Rajasthan Pension List 2021-22 | राजस्थान जिलेवार पेंशनर्स सूची देखे ऑनलाइन @rajssp.raj.nic.in

Kalibai Bhil Scooty Yojana ऑनलाइन आवेदन, पंजीकरण फॉर्म पीडीऍफ़, सूची

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म पीडीऍफ़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *