PM Kisan Samman Nidhi Scheme में गलत तरीके से पैसा लेने वालों पर गिरेगी गाज, शुरू होने जा है फिजिकल वेरिफिकेशन

By | July 8, 2020

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना किसानों के लिए शुरू की गयी केंद्र सरकार की लाभकारी योजनाओं में से एक है. इस योजना के तहत लाभार्थी किसानों को 2000-2000 रूपए की 3 किस्तों के रूप में सालाना 6000 रूपए दिए जाते हैं. यह सहायता राशि DBT के माध्यम से किसानों के खातों में सीधे ट्रांसफर की जाती है.

PM Kisan Samman Nidhi Scheme

सरकार को ऐसी जानकारी मिली है की, कुछ अपात्र व्यक्ति भी पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहें है. इस पर रोक लगाने के लिए सरकार फिजिकल वेरिफिकेशन की प्रक्रिया अपनाने जा रही है. जिससे इस भ्रष्टाचार को रोका जा सके और जो पात्र किसान हैं, उन तक इस योजना का लाभ पहुंचाया जा सके.

5% किसानों का होगा फिजिकल वेरिफिकेशन

सरकार को यह जानकारी मिली है की जो लोग इस योजना के पात्र नहीं है, वह भी इस योजना का लाभ ले रहें है. ऐसे में सरकार 5 फ़ीसदी किसानों का फिजिकल वेरिफिकेशन करवाने जा रही है. इससे गलत लोगों की पहचान हो सकेगी और सही लाभार्थियों का पता लगाया जा सकेगा, ताकि PM Kisan Samman Nidhi Scheme का पैसा सही और जरूरतमंद किसानों को मिल सके.

National Health Insurance SchemePM Shramik Setu Portal and App 2020
झारखण्ड किसान कर्ज माफ़ी योजनाIAY List 2020

जिला कलक्टर की देख रेख में होगा वेरिफिकेशन

कृषि मंत्रालय के अनुसार, यह वेरिफिकेशन जिला कलक्टर की देख-रेख में होगा. इसमें किसानों द्वारा प्रस्तुत दस्तावेजों की जांच मौके पर की जायेगी। डॉक्युमेंट्स की जांच करने के आधार पर पता चल सकेगा की, कोई फर्जी तरीके से इस योजना का लाभ तो नहीं उठा रहा है. इसलिए जो इस योजना का गलत तरीके से फायदा उठा रहें हैं, उन्हें सावधान होने की जरुरत है.

वेरिफिकेशन में फर्जी पाए जाने वालों से पैसे लिए जाएंगे वापस –

यदि कोई व्यक्ति वेरिफिकेशन में फर्जी पाया जाता है, या उसके द्वारा प्रस्तुत दस्तावेज एक दुसरे से मेल नहीं खाते तो उनसे पैसे वापस लिए जाएंगे. पहले भी गलत खातों से पैसे वापस लिए जा चुके हैं. दिसंबर 2019 तक मोदी सरकार ने 8 राज्यों के कुल 1,19,743 लाभार्थियों के खाते से पैसे वापस ले लिए हैं. अब गलत खातों में पैसे नहीं जाए, इसके लिए फिजिकल वेरिफिकेशन की प्रक्रिया शुरू की जा रही है.

PM Awas Yojana ListAtal Pension Yojana
PM Kisan Mandhan Yojanaमुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना हरियाणा

फिजिकल वेरिफिकेशन कैसे किया जाएगा

केंद्र सरकार अब किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों के डाटा का आधार वेरिफिकेशन अनिवार्य कर दिया है. किसानों द्वारा दी गई सूचना को दस्तावेजों से मैच किया जाएगा. यदि दस्तावेजों और दी गयी जानकारी में किसी भी प्रकार कि त्रुटि या कमी पायी जाती है, तो सम्बंधित राज्यों को उन लाभार्थी किसानों की जानकारी में सुधार या बदलाव किया जाएगा.

कैसे लिया जाता है पैसा वापस

यदि कोई किसान इस योजना की शर्तों को पूरा नहीं करता अर्थात अपात्र है, और जिनके दस्तावेज और पीएम किसान योजना में भरी गयी जानकारी एक-दुसरे से मैच नहीं खाती, तो उनके खाते में भेजा गया पैसा Direct Benefit Transer (DBT) के माध्यम से वापस लिए जाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *