प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना 2022: लाभ, विशेषता व कार्यान्वयन प्रक्रिया

By | April 13, 2022

Pradhan Mantri Poshan Shakti Nirman Yojana: केंद्र सरकार द्वारा केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना को शुरू करने की घोषणा की गयी है। इस योजना के अंतर्गत देश के करोड़ों बच्चे जो सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों में अध्ययनरत हैं, उन्हें 5 वर्षों तक मुफ्त में दोपहर का पोष्टिक भोजन प्रदान किया जाएगा। देश के करोड़ों बच्चे जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से आते हैं, उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। PM Poshan Shakti Nirman Yojana के माध्यम से बच्चों को कुपोषण का शिकार होने से रोका जा सकेगा।

Pradhan Mantri Poshan Shakti Nirman Yojana 2022

देश के सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों में अध्ययनरत करोड़ों बच्चों को पोष्टिक भोजन मिले इसके लिए भारत सरकार ने प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना (PM poshan shakti nirman yojana) की शुरुआत की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत देश के तक़रीबन 11 लाख 20 हजार विद्यालयों के करोड़ों विद्यार्थियों को इस योजना के अंतर्गत लाभान्वित किया जाएगा। इस योजना के सफल संचालन के लिए भारत द्वारा द्वारा 1 लाख 71 हजार करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। इससे स्कूलों में विद्यार्थियों की उपस्थिति बढ़ेगी, और पोषण का विकास होगा।

pm poshan shakti nirman yojana

Key Highlights of Pradhanmantri Poshan Shakti Nirman Yojana 2022

योजना का नाम प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना 2022
किसके द्वारा शुरू की गयी केंद्र सरकार
सम्बंधित विभागशिक्षा विभाग
उद्देश्य बच्चों को पोषण युक्त भोजन उपलब्ध कराना
लाभार्थी सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे
लाभार्थियों की संख्या 11.8 करोड़
स्कूलों की संख्या 11.2 करोड़
बजट 1.31 लाख करोड़
आधिकारिक वेबसाइट जल्द लांच की जायेगी

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का बजट

भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के कार्यान्वयन पर 1.31 लाख करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के संचालन पर 54061.73 करोड़ रुपए प्रदान किये जाएंगे एवं राज्य सरकारों का योगदान 31733.17 करोड़ रुपए का होगा। पोषक अनाज खरीदने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 45,000 करोड़ रूपए अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान की जायेगी। पहाड़ी क्षेत्रों में इस योजना के संचालन पर 90 प्रतिशत केंद्र सरकार 10 प्रतिशत राज्य सरकारों का योगदान होगा।

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को पोषण युक्त भोजन प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से देश में कुपोषण की समस्या दूर होगी, तथा प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के माध्यम से 11,20,000 से अधिक स्कूलों के करोड़ों विद्यार्थियों को दोपहर का भोजन भी मिलेगा। इस योजना के कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार द्वारा ₹1,31,000 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है।

Pradhanmantri Poshan Shakti Nirman Yojana 2022 के लाभ एवं विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 29 सितम्बर 2021 को की गयी है।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकारी एवं सरकार से सहायता प्राप्त विद्यालयों के बच्चों को सरकार दोपहर का भोजन मुहैया कराएगी।
  • देश के तक़रीबन 11,20,000 से अधिक स्कूलों के करोड़ों विद्यार्थियों को इस योजना के अंतर्गत दोपहर का पोष्टिक भोजन मिलेगा।
  • इससे बच्चे कुपोषण का शिकार नहीं होंगे, एवं भारत में कुपोषण की समस्या दूर होगी।
  • Pradhan Mantri Poshan Shakti Nirman Yojana के लिए भारत सरकार द्वारा ₹1,31,000 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है।
  • इस स्कीम के माध्यम से बच्चों के जीवनस्तर में सुधार होगा।

पोषण शक्ति निर्माण योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज (पात्रता)

  • इस योजना के अंतर्गत सरकारी स्कूलों एवं सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों के बच्चों को पौष्टिक भोजन दिया जाएगा।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • आय का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का लाभ कैसे लें?

  • प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थियों को इस योजना में आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है।
  • इस योजना का लाभ विद्यालय के माध्यम से छात्रों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ सिर्फ सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को प्रदान किया जाएगा।
  • पोषण शक्ति योजना से बच्चों को पोषणयुक्त आहार मिलेगा जिससे कोई भी स्कूली बच्चा कुपोषण का शिकार नहीं होगा।

FAQs (प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना से जुड़े कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर)

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति योजना क्या है?

इस योजना के अंतर्गत सरकारी एवं सरकारी सहायता प्राप्त विद्यालयों में अध्ययनरत बच्चों को कुपोषण का शिकार होने से बचाने के लिए उन्हें पोषण युक्त भोजन उपलब्ध करवाया जाएगा।

पोषण शक्ति योजना में आवेदन कैसे करें?

इस योजना में आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है, विद्यालय द्वारा ही बच्चों को भोजन उपलब्ध करवाया जाएगा।

इस योजना के संचालन के लिए केंद्र सरकार द्वारा कितने रूपए का बजट निर्धारित किया गया है?

इस योजना के संचालन के लिए केंद्र सरकार द्वारा 1,31,000 करोड़ रूपए का बजट निर्धारित किया गया है।

इस योजना का लाभ कितने विद्यालयों को मिलेगा?

इस स्कीम का लाभ देश के तक़रीबन 11,20,000 से अधिक स्कूलों के करोड़ों विद्यार्थियों को मिलेगा।

Pradhan Mantri Poshan Shakti Yojana की शुरुआत कब की गयी?

इस योजना की शुरुआत 29 सितम्बर 2021 को की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.