(पंजीकरण) स्फूर्ति योजना 2021: SFURTI Yojana ऑनलाइन आवेदन, लाभ व उद्देश्य

By | June 9, 2021

SFURTI का पूरा नाम Scheme of Fund for Regeneration of Traditional Industries है. यह योजना सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (Ministry of Micro, Small & Medium Enterprises) द्वारा संचालित की जा रही है. इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य पारम्परिक उद्योगों में हो रही गिरावट को सही करना है. SFURTI Yojana 2021 क्या है, यह योजना क्यों शुरू की गयी, इसकी विशेषताएं एवं लाभ क्या हैं? आदि सवालों के जवाब जानने के लिए हमारे साथ लेख पर अंत तक बने रहें.

क्या है स्फूर्ति योजना | SFURTI Yojana 2021

पारम्परिक उद्योग, कारीगरों, और ग्रामीण उद्यमियों के लिए स्थाई रोजगार प्रदान करने के लिए, एवं पारम्परिक उद्योगों का विकास करने के लिए वर्ष 2005 में स्फूर्ति योजना की शुरुआत की गयी. इस योजना के अंतर्गत पारम्परिक उद्योगों में लगे कारीगरों का कौशल विकास किया जाएगा, एवं उद्योगों को फंडिंग भी प्रदान की जाएगी.

Pradhan Mantri Rojgar Protsahan Yojana

SFURTI Yojana 2021 के तहत पारम्परिक उद्योगों जैसे बांस, खादी, शहद आदि उद्योगों से जुड़े कारीगरों का कौशल विकास किया जाएगा जिससे की पारम्परिक उद्योगों का विकास हो सके. स्फूर्ति योजना के तहत वर्ष 2019-20 में कुल 100 क्लस्टर बनाने की योजना है, जिसमे 50000 हज़ार ग्रामीण शिल्पकारों को इस आर्थिक वैल्यू चैन में शामिल होने के लिए समर्थ बनाया जायेगा.

SFURTI Yojana 2021 Highlights

योजना का नाम स्फूर्ति योजना
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य पारंपरिक उद्योगों का विकास करना

स्फूर्ति योजना का उद्देश्य

स्फूर्ति योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य पारम्परिक उद्योगों का विकास एवं कारीगरों का कौशल विकास करना हैं. इस योजना के माध्यम से उद्योगों में स्थिरता बनी रहेगी और रोजगार में भी बढ़ोतरी आएगी, तथा ग्रामीण क्षेत्र में परंपरागत उद्योगों को प्रोत्साहन मिलेगा.

SFURTI Yojana 2021 के लाभार्थी

  • शिल्पकार संघ
  • सहकारी संघ
  • कारीगर
  • क्लस्टर विशिष्ट निजी क्षेत्र
  • पंचायती राज संस्थान
  • गैर सरकारी संगठन
  • केंद्र और राज्य सरकारों के अर्ध सरकारी संस्थान
  • राज्य और केंद्र सरकारों के फील्ड अधिकारी
  • कॉरपोरेट्स एंड कॉर्पोरेट रिस्पांसिबिलिटी फाउंडेशन
  • उधम संघ
  • स्वयं सहायता समूह
  • उद्यमों के नेटवर्क
  • निजी व्यवसाय विकास सेवा प्रदाता
  • संस्थागत विकास सेवा प्रदाता
  • उद्यमी
  • कच्चे माला प्रदाता
  • मशीनरी निर्माता
  • श्रमिक आदि

Education Loan: 5 लाख तक का शैक्षणिक लोन देगा अल्पसंख्यक विभाग, लोन लेने के लिए ऐसे करें आवेदन

स्फूर्ति योजना के अंतर्गत दी जाने वाली वित्तीय सहायता

  • हेरिटेज़ क्लस्टर (1000 -2500 कारीगर) के लिए, 8 करोड़ रूपए प्रदान किये जायेंगे।
  • महत्वपूर्ण समूहों (500 -1000 कारीगरों ) के लिए, 3 करोड़ रूपए प्रदान किये जायेंगे।
  • एक मिनी क्लस्टर (500 कारीगरों तक) के लिए, 50 करोड़ बजट की सीमा होगी।
  • एनेईआर / जम्मू और कश्मीर और पहाड़ी राज्यों के लिए प्रति क्लस्टर कारीगरों की संख्या में 50% की कमी होगी।

प्रोजेक्ट की अवधि क्या है?

परियोजना के कार्यान्वयन की समय सीमा 3 वर्ष होगी।

सॉफ्ट इंटरवेंशन के तहत किन गतिविधियों को शामिल किया गया है?

इस परियोजना के तहत सॉफ्ट इंटरवेंशन जैसे कार्यकलाप शामिल होंगे

  • सामान्य जागरूकता, परामर्श, प्रेरणा और विश्वास निर्माण
  • कौशल विकास और क्षमता निर्माण
  • संस्थागत विकास
  • एक्सपोजर का दौरा
  • बाजार संवर्धन पहल
  • डिजाइन और उत्पाद विकास
  • सेमिनार, कार्यशालाओं और प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लेना
  • प्रौद्योगिकी उन्नयन, आदि

हार्ड इंटरवेंशन के तहत क्या सुविधाएं शामिल हैं?

हार्ड इंटरवेंशन में निम्नलिखित सुविधाओं का निर्माण शामिल होगा:

  • सामान्य सुविधा केंद्रों का निर्माण (सीएफसी)
  • कच्चा माल बैंक (आरएमबी)
  • उत्पादन अवसंरचना का उन्नयन
  • उपकरण और तकनीकी उन्नयन जैसे चरखा उन्नयन, टूल-किट वितरण, आदि
  • भण्डारण की सुविधा
  • प्रशिक्षण केन्द्र
  • मूल्य संवर्धन और प्रसंस्करण केंद्र

नोट: कच्चे माल की बैंक (आरएमबी) के लिए सहायता ली जाएगी उन्नत ऋण के लिए वित्तीय संस्थान के साथ।

SFURTI Yojana 2021 का लाभ तथा विशेषताएं

  • इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे एवं बेरोजगारी की समस्या दूर होगी.
  • परंपरागत उद्योगों की प्रोत्साहन मिलेगा एवं कारीगरों का कौशल विकास किया जाएगा.
  • इस योजना के माध्यम से उद्योगों में स्थिरता बनी रहेगी.
  • SFURTI Yojana 2021 के अंतर्गत ग्रामीण उद्योगों के लिए क्लस्टर बनाए जाएंगे जिससे कि उस क्लस्टर के कारीगरों की कौशल विकास किया जा सके।
  • यह योजना सूक्ष्म, लघु एवं माध्यम उद्योग मंत्रालय (MSME) द्वारा शुरू किया गया है.
  • इस योजना के अंतर्गत बांस, खादी, शहद जैसे ग्रामीण परंपरागत उद्योग से जुड़े कारीगरों की क्षमता का विकास किया जाएगा.
  • इस योजना के अंतर्गत वर्ष 2019-20 में तक़रीबन 50000 हस्त कारीगरों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जाएंगे.
  • स्फूर्ति योजना के अंतर्गत एक करोड़ रुपए से लेकर 8 करोड रुपए तक का फण्ड प्रदान किया जाएगा।

स्फूर्ति योजना 2021 की पात्रता तथा आवश्यक दस्तावेज

इस योजना में आवेदन करने हेतु आपको निम्नलिखित पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा, एवं दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे:-

पात्रता

  • आवेदक भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए.
  • आवेदक पारम्परिक उद्योग में शामिल कार्मिक होना चाहिए।

दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक डिटेल्स
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

स्फूर्ति योजना 2021 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए निचे दी गयी प्रक्रिया को फॉलो करें:-

  • ऑफिसियल वेबसाइट खुलने के बाद आपको “Apply Now” के ऑप्शन पर क्लिक करना है.
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा.
  • अब फॉर्म में पूछी समस्त जानकारी सही-सही भरें.
  • फॉर्म भरने के बाद आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें.
  • अब फॉर्म को अच्छी तरह से जांच ले कोई गलती तो नहीं। उसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करें.
  • सबमिट के बटन पर क्लिक करने के बाद आपका आवेदन सफलतापूर्वक हो जाएगा.

महत्वपूर्ण लिंक

स्फूर्ति योजना की अधिसूचना

Contact Information

  • ऑफिस पता: डायरेक्टरेट ऑफ़ स्फूर्ति खादी एंड विलेज कमीशन 3, इरला रोड, Vile parle मुंबई-40056
  • फ़ोन नंबर: 022-26713696
  • मोबाइल नंबर: 7738115734
  • ईमेल ID: [email protected], [email protected]

FAQs (स्फूर्ति योजना से जुड़े कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर)

स्फूर्ति योजना क्या है?

इस योजना के अंतर्गत पारम्परिक उद्योगों का विकास करना है. इसके लिए पारम्परिक उधोगों से जुड़े कारीगरों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा. और इस योजना के अंतर्गत सरकार पारम्परिक उद्योगों के पुनः विकास के लिए फण्ड प्रदान करती है.

SFURTI Yojana की फुल फॉर्म क्या है?

इस योजना की फुल फॉर्म Scheme of Fund for Regeneration of Traditional Industries (SFURTI) है.

स्फूर्ति योजना से जुडी ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

इस योजना से जुडी ऑफिसियल वेबसाइट msme.gov.in है.

SFURTI Scheme के अंतर्गत पारम्परिक उद्योगों को कितने रूपए का फण्ड प्रदान किया जाएगा?

योजना के अंतर्गत 1 करोड़ से 8 करोड़ का फण्ड उद्योगों के पुनः विकास के लिए प्रदान किया जाएगा. जो अलग-अलग समूह के अनुसार है.

  • हेरिटेज क्लस्टर जिसमे 1000 से 2500 के कारीगर काम करते है उन्हें स्फूर्ति योजना के तहत 8 करोड़ रुपये
  • मिनी समूह (क्लस्टर) जिसमे 500 कारीगर होते है उन्हें सरकार स्फूर्ति योजना के माध्यम से 1 करोड़ रुपये
  • प्रमुख समूह जिसमे 500 से 1000 कारीगर काम करते है उन्हें योजना के अंतर्गत 3 करोड़ रुपये प्रदान करेगी

स्फूर्ति योजना के अंतर्गत किस प्रकार के पारम्परिक उद्योगों को अधिक महत्व दिया गया है?

स्फूर्ति योजना के अंदर पारम्परिक उद्योग जैसे: बांस, खादी, शहद, गोंद के पुनः विकास हेतु अधिक महत्व दिया गया है

PM Kisan Yojana 7th Installment Official List: योजना की सातवीं क़िस्त के लाभार्थियों की आधिकारिक सूची जारी, ऐसे देखें लिस्ट में अपना नाम

New Sauchalay List 2021 : ऑनलाइन जारी हो चुकी है शौचालय की सूची, ऐसे देखें सूची में अपना नाम

Aam Aadmi Bima Yojana: सिर्फ 100 रूपए में मिल रहा है 75 हज़ार का लाइफ इंश्योरेंस, ऐसे करें आवेदन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *