Shram Siddhi Yojana| श्रम सिद्धि योजना जॉब कार्ड के लिए करवाएं पंजीयन, मजदूर को मिलेगा रोजगार

By | May 26, 2020

हेलो दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि इस समय कोरोनावायरस बहुत तेजी से फैल रहा है, जिसके कारण पूरे देश को लॉकडाउन किया हुआ है। लॉकडाउन के कारण देश की हालत बहुत खराब हो गई है। इस समय देश की इकोनामी बहुत ही डाउन है। सबसे ज्यादा अगर कोई प्रभावित हुआ है, तो वह है गरीब मजदूर, किसान, और झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले।

उन्हें खाने-पीने जैसी जरूरी चीजों की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। अधिकांश प्रवासी मजदूर एक राज्य से दूसरे राज्य में पलायन कर रहे हैं। इस लेख के माध्यम से आपको मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लागू की गई (Shram Siddhi Yojana) श्रम सिद्धि योजना चलाई जा रही है। सरकार द्वारा श्रम सिद्धि योजना का अभियान शुरू किया गया है आपको इसके बारे में पूरी जानकारी इस लेख में दी जाएगी।

Shram Siddhi Yojana
Shram Siddhi Yojana

मध्यप्रदेश की Shram Siddhi Yojana क्या है?

बता दें सभी राज्यों में मजदूरों के लिए एक विशेष कार्ड प्रकार का जॉब कार्ड बनाया जाता है। जिसके जरिये रोजगार दिया जाता है। जॉब कार्ड के जरिए वह विभिन्न योजनाओं का लाभ ले सकता है। मध्य प्रदेश सरकार ने हाल ही में यह फैसला लिया है, कि जिन लोगों ने अपना जॉब का नहीं बनवाया है। सरकार घर-घर जाकर जॉब कार्ड बनाएगी, ताकि मजदूरों को रोजगार मिल सके, और उनके सामने कोरोना संकट से निजात मिल सके। इसलिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना की शुरुआत की गई।

इस योजना के अंतर्गत कई सारी योजनाएं को सम्मिलित किया गया। श्रम सिद्धि योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री द्वारा किया गया। मुख्यमंत्री ने यह ऐलान किया है कि संबल योजना फिर से शुरू कि जाएगी, और साथ ही मजदूरों को योजना के साथ जोड़कर सभी योजना का लाभ दिया जाएगा। इसलिए जो प्रवासी मजदूर इस योजना का लाभ लेने से वंचित रह गए हैं। अभी भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

श्रम सिद्धि योजना (Shram Siddhi Yojana) लाभ क्या है?

इसके अंतर्गत कई सारी योजनाओं को शामिल किया जिसके तहत लाभ दिया जाता है, जैसे कि बच्चों की स्कूल फीस, गर्भवती महिलाओं को बच्चे जन्म के समय या बाद में सहायता राशि दी जाती है, जिसकी राशि 16000 है। बालिकाओं के विवाह के समय भी सहायता राशि दी जाती है। श्रमिक की मृत्यु होने की दशा में दो लाख एवं दुर्घटना में हुई मृत्यु की दशा में चार लाख का बीमा किया जाता है। अंतिम संस्कार के लिए ₹5000 की सहायता राशि योजना के अंतर्गत रखी गई है।

श्रम सिद्धि योजना में पंजीकरण कैसे करना है?

इस योजना के अंतर्गत यदि आप पंजीकरण करवाना चाहते हैं, तो पंजीकरण प्रक्रिया ग्राम पंचायत लेवल पर की जाएगी, जिसमें मजदूरों के घर जाकर पंजीयन की प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। बता दें, इस योजना में जिन लोगों पंजीकरण होगा उसकी योग्यता के अनुसार उनको रोजगार दिया जाएगा। साथ ही उनकी प्रतिभा और कार्य करने की क्षमता पर भी निर्भर करता है। इसके लिए 3 तरह की कैटेगरी बनाई गई है, जिसमें कुशल, अकुशल अर्धकुशल शामिल होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *