(मैरिज रजिस्ट्रेशन) विवाह पंजीकरण 2021: शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन व स्टेटस

By | July 5, 2021

नवविवाहित जोड़ों की शादी को क़ानूनी मान्यता प्रदान करने के लिए विवाह पंजीकरण कराना अनिवार्य है. अब विवाह पंजीकरण अधिनियम के तहत सभी धर्म के लोगों को पंजीकरण कराना अनिवार्य है. विवाह प्रमाण पत्र में वर एवं वधु का नाम, शादी की तिथि आदि का उल्लेख का होता है. शादी के बाद बहुत से जरुरी कार्यों जैसे बैंक में जॉइंट अकाउंट खुलवाना, जॉइंट प्रॉपर्टी खरीदना, राशन कार्ड बनवाना आदि के लिए विवाह प्रमाण पत्र का होना बहुत जरुरी है.

यह प्रमाण पत्र Vivah Panjikaran के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है. कई राज्य सरकारों द्वारा विवाह प्रमाण पत्र बनवाने हेतु Marriage Registration करने के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान की जा रही है. इस लेख में हम आपको शादी पंजीकरण कराते समय किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी एवं राज्य सरकारों द्वारा मैरिज रजिस्ट्रेशन हेतु संचालित ऑफिसियल वेबसाइट की जानकारी प्रदान कर रहें हैं. इसलिए उपरोक्त जानकारी प्राप्त करने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़ें.

Vivah Panjikaran 2021

सरकारी आदेशों के अनुसार विवाह के 21 दिनों के भीतर विवाह पंजीकरण कराना होता है. Vivah Panjikaran कराने के बाद विवाह प्रमाण पत्र जारी किया जाता है. यह प्रमाण पत्र महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने एवं उन्हें सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए है, एवं बाल विवाह एवं महिलाओं के प्रति होने वाले घरेलु हिंसा को रोकने के लिए है. पति की मृत्यु के बाद शादी प्रमाण पत्र के माध्यम से महिलाओं को सारे अधिकार प्राप्त होते है क्योंकि कई बार देखा जाता है की पति की मृत्यु के बाद महिला को घर से निकाल दिया जाता है. विवाह प्रमाण पत्र होने से महिला अपना कानूनन पक्ष रख सकती है.

vivah panjikaran

शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन

विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने हेतु विवाह पंजीकरण करने के लिए उम्मीदवारों द्वारा ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों माध्यमों से आवेदन किया जा सकता है. ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने राज्य की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा या आप ई-मित्र, कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से भी Online Marriage Registration करवा सकते हैं. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से आपके समय एवं धन दोनों की बचत होगी. मैरिज सर्टिफिकेट बनवाने के लिए आपको कुछ शुल्क का भुगतान करना होगा यदि आप सरकार द्वारा निर्धारित समय के भीतर विवाह पंजीकरण नहीं करवाते है तो आपको जुर्माना भी भरना पड़ेगा.

Key Highlights Of Marriage Registration 2021

योजना का नाम विवाह पंजीकरण 2021
किसके द्वारा शुरू की गयी भारत सरकार
सम्बंधित विभाग राजस्व विभाग
उद्देश्य नवविवाहित जोड़ों का विवाह पंजीकरण करवाना
लाभार्थी भारत के नागरिक

विवाह पंजीकरण का उद्देश्य

महिलाओं के प्रति होने वाली घरेलु हिंसा, बाल विवाह, पति की मृत्यु के बाद घर से निकाला आदि को रोकने एवं महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से भारत सरकार ने विवाह पंजीकरण कराना अनिवार्य कर दिया है. विवाह प्रमाण पत्र नवविवाहित जोड़े की शादी को प्रमाणित एवं कानूनी तौर पर मान्यता प्रदान करता है. नवविवाहित जोड़े को शादी के 21 दिनों के भीतर विवाह पंजीकरण कराना अनिवार्य है. इससे महिलाओं के ऊपर होने वाले अत्याचारों को रोका जा सकेगा। Vivah Panjikaran अधिनियम के अंतर्गत प्रत्येक धर्म के लोगों को यह पंजीकरण करवाना अनिवार्य है. इससे महिलाएं आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनेंगी.

Vivah Panjikaran 2021 के लाभ एवं विशेषताएं

  • भारत सरकार द्वारा सभी विवाहित जोड़ों को शादी प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए मैरिज रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है.
  • इस प्रमाण पत्र के माध्यम से नवविवाहित जोड़ों की शादी को क़ानूनी पर मान्यता मिलती है.
  • विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जा सकेगी।
  • शादी के बाद जॉइंट अकाउंट खुलवाने, जॉइंट प्रॉपर्टी लेने, राशन कार्ड बनवाने आदि कार्यों में भी विवाह प्रमाण पत्र (Marriage Certificate) की आवश्यकता होती है.
  • Marriage Registration के माध्यम से महिलाओं के प्रति होने वाले अत्याचार, बाल विवाह, आदि पर लगाम लगेगी.
  • यदि पति की मृत्यु हो जाती है तो पत्नी को विवाह प्रमाण पत्र के माध्यम से सारे अधिकार प्राप्त होते हैं।
  • इस प्रमाण पत्र को बनवाने के लिए आपको अपने राज्य की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा.
  • आवेदन ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों माध्यमों से किया जा सकता है.
  • विवाह पंजीकरण अधिनियम के अंतर्गत सभी धर्म के नागरिकों को विवाह प्रमाण पत्र बनवाना अनिवार्य है.
  • निर्धारित समय पर शादी पंजीकरण करवाने पर सरकार द्वारा निर्धारित शुल्क का भुगतान करना होगा.
  • यदि आप निर्धारित समय पर मैरिज रजिस्ट्रेशन नहीं करवाते है तो आपको जुर्माने का भुगतान भी करना होगा.

विवाह पंजीकरण 2021 की पात्रता

  • आवेदक या फिर आवेदक का पति या पत्नी भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक पुरुष की आयु 21 वर्ष एवं महिला की आयु 18 से कम नहीं होनी चाहिए.
  • विवाह पंजीकरण शादी के 21 दिनों के भीतर करवाना अनिवार्य है.

मैरिज रजिस्ट्रेशन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • वर एवं वधु का आधार कार्ड
  • वर एवं वधु का निवास प्रमाण पत्र
  • वर वधु का आयु प्रमाण पत्र
  • शादी का कार्ड
  • शादी के समय की तस्वीरें
  • शादी के समय दो गवाह के बारे में पूरी जानकारी एवं उनका प्रमाण पत्र।
  • विदेश में शादी की स्थिति में एंबेसी द्वारा नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट।
  • वर एवं वधु का जॉइंट फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

विवाह पंजीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया

इच्छुक उम्मीदवार जो विवाह पंजीकरण हेतु ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, वह निचे दी गयी प्रक्रिया को ध्यानपूर्वक फॉलो करें:-

  • सर्वप्रथम आपको अपने राज्य की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा.
  • वेबसाइट खुलने के बाद आपको “Marriage Registration” के विकल्प को खोजना है, इस पर क्लिक करना है.
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा.
  • पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी समस्त जानकारी सही सही दर्ज करनी है.
  • उसके बाद सभी आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें.
  • अब आपको “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सफलतापूर्वंक Vivah Panjikaran कर पाएंगे।

विवाह पंजीकरण की ऑफलाइन प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको राजस्व विभाग (Revenue Department) जाना होगा.
  • वहां जाकर आप विवाह पंजीकरण फॉर्म प्राप्त करें.
  • पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे वर वधु का नाम, पिता/पति का नाम, पता, साक्षियों का विवरण, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि दर्ज करना होगा.
  • उसके बाद फॉर्म के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें.
  • अब पूर्णरूप से भरे हुए आवेदन फॉर्म को सम्बंधित विभाग में जाकर जमा करा दें.
  • आपके आवेदन फॉर्म का उचित सत्यापन करने के बाद आवेदक को विवाह प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा.

विवाह पंजीकरण करने के लिए सभी राज्यों की आधिकारिक वेबसाइट

आंध्र प्रदेशयहां क्लिक करें
 अरुणाचल प्रदेशयहां क्लिक करें
आसामयहां क्लिक करें
 बिहारयहां क्लिक करें
 छत्तीसगढ़यहां क्लिक करें
 गोवायहां क्लिक करें
 गुजरातयहां क्लिक करें
 हरियाणायहां क्लिक करें
 हिमाचल प्रदेशयहां क्लिक करें
 झारखंडयहां क्लिक करें
 कर्नाटकायहां क्लिक करें
 केरलायहां क्लिक करें
 मध्य प्रदेशयहां क्लिक करें
 महाराष्ट्रयहां क्लिक करें
 मणिपुरयहां क्लिक करें
 मेघालययहां क्लिक करें
 मिजोरमयहां क्लिक करें
 नागालैंडयहां क्लिक करें
 ओड़िशायहां क्लिक करें
 पंजाबयहां क्लिक करें
 राजस्थानयहां क्लिक करें
 सिक्किमयहां क्लिक करें
 तमिल नाडुयहां क्लिक करें
 तेलंगानायहां क्लिक करें
 त्रिपुरायहां क्लिक करें
 उत्तराखंडयहां क्लिक करें
 उत्तर प्रदेशयहां क्लिक करें
 वेस्ट बंगालयहां क्लिक करें
 पुडुचेरीयहां क्लिक करें
 लक्षदीपयहां क्लिक करें
 लद्दाखयहां क्लिक करें
 जम्मू एंड कश्मीरयहां क्लिक करें
 दिल्लीयहां क्लिक करें
 दादर एंड नगर हवेली दमन एंड दिउयहां क्लिक करें
 चंडीगढ़यहां क्लिक करें
 अंडमान निकोबार आईलैंडयहां क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *