(निशुल्क कोचिंग) राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म पीडीऍफ़, पात्रता, चयन प्रक्रिया

By | June 7, 2021

Rajasthan Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021: राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थी जो प्रोफेशनल कोर्स एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी नहीं कर पाते है उनके लिए “मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना” की शुरुआत की है. इस योजना के अंतर्गत हर वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा. दोस्तों, आज इस लेख में हम आपको राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना से जुडी सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे राजस्थान अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है? इसके लाभ, उद्देश्य, पात्रता, दस्तावेज एवं चयन प्रक्रिया आदि. इसलिए योजना से जुडी समस्त जानकारी प्राप्त करने के लिए लेख पर अंत तक बने रहें.

Rajasthan Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana 2021

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021 की शुरुआत 06 जून 2021 को गयी थी. इस योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों का चयन 10वीं एवं 12वीं में प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाएगा. योजना में 50% छात्राओं को लाभ दिया जाएगा. अनुप्रति कोचिंग योजना का लाभ छात्र को केवल एक वर्ष के लिए मिलेगा। योजना में अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC), विशेष पिछड़ा वर्ग (SBC), अल्पसंख्यक, एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के वे विद्यार्थी पात्र होंगे, जिनके परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपए प्रतिवर्ष के कम होगी. ऐसे विद्यार्थी जिनके माता-पिता राज्य सरकार के कार्मिक के रूप में पे-मैट्रिक्स लेवल-11 तक वेतन प्राप्त कर रहें हैं वह भी इस योजना के पात्र होंगे.

rajasthan mukhymantri anupriti coaching scheme

Key Highlights of Rajasthan Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme

योजना का नाम राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना
कब शुरू की गयी 05 जून 2021 (शनिवार)
किसके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा
उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को कोचिंग सुविधा प्रदान करना
लाभार्थी राज्य के SC, ST, OBC, EWS वर्ग के छात्र
ऑफिसियल वेबसाइट अभी लांच नहीं की गयी है

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021 का उद्देश्य

इस योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य ऐसे विद्यार्थियों की मदद करना है, जो कमजोर आर्थिक स्थिति के कारण प्रोफेशनल कोर्स या प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग प्राप्त करने में असक्षम है. राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अति पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के विद्यार्थियों को निःशुल्क कोचिंग सुविधा प्रदान की जायेगी. जिससे प्रदेश के मेधावी विद्यार्थी अब आर्थिक तंगहाली के कारण अपने सुनहरे भविष्य से वंचित नहीं होंगे।

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना की लाभ एवं विशेषताएं

  • इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा 06 जून 2021 को गयी.
  • मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत प्रतिभावान पात्र विद्यार्थियों को विभिन्न प्रोफेशनल कोर्स एवं प्रतियोगी परीक्षाओं की उत्कृष्ट तैयारी हेतु निःशुल्क कोचिंग सुविधा प्रदान की जायेगी.
  • इस योजना का लाभ सिर्फ 1 वर्ष की अवधि के लिए देय होगा.
  • परीक्षाओं की मेरिट का निर्धारण 12वीं अथवा 10वीं के प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाएगा.
  • Mukhymantri Anuprati Coaching Scheme के माध्यम से प्रदेश के मेधावी विद्यार्थी अब आर्थिक तंगहाली के कारण अपने सुनहरे भविष्य से वंचित नहीं होंगे.
  • इस योजना का कार्यान्वयन जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, एवं अल्पसंख्यक मामलात विभाग द्वारा किया जाएगा.
  • अन्य शहर के प्रतिष्ठित संस्थान से कोचिंग लेने वाले छात्र-छात्राओं को भोजन एवं आवास के लिए 40 हजार रुपए प्रतिवर्ष अतिरिक्त राशि मिलेगी।

राजस्थान मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा छात्रवृति योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना में चयन प्रक्रिया

  • अभ्यर्थियों के मेरिट का निर्धारण 12वीं एवं 10वीं के प्राप्तांकों के आधार पर होगा.
  • लाभार्थियों में 50 प्रतिशत छात्राएं होगी.
  • विभाग जिलेवार लक्ष्य निर्धारित कर विद्यार्थियों की मेरिट के अनुरूप चयनित संस्थानों के माध्यम से कोचिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे.
  • अनुसूचित जाति वर्ग के लिए योजना का संचालन जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग, एससी, ओबीसी, एमबीसी और ईडब्ल्यूएस वर्ग के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, अल्पसंख्यक वर्ग के लिए अल्पसंख्यक मामलात विभाग करेगा.

इन परीक्षाओं की कर सकेंगे तैयारी

परीक्षा का नामराशिअवधिन्यूनतम योग्यतापात्र छात्र-छात्राओं की कुल संख्या
UPSC द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षाप्रतिष्ठित संस्थानों के माध्यम से-
75,000/- रूपये
01 वर्षस्नातक/ स्नातक के अंतिम दो वर्षों में अध्ययनरत एवं कक्षा 12वीं में 70% अंक200
SC-35
ST-25
OBC-45
MBC-10
EWS-20
Others-65
अन्य संस्थानों के माध्यम से-50,000/- रूपये01 वर्षस्नातक/ स्नातक के अंतिम दो वर्षों में अध्ययनरत एवं कक्षा 12वीं में 60% अंक
RPSC द्वारा आयोजित RAS या अधीनस्थ सेवा सयुंक्त प्रतियोगिता परीक्षाप्रतिष्ठित संस्थानों के माध्यम से-
50,000/- रूपये
01 वर्षस्नातक/ स्नातक के अंतिम दो वर्षों में अध्ययनरत एवं कक्षा 12वीं में 65% अंक500
SC-80
ST-60
OBC-105
MBC-25
EWS-50
Others-180
अन्य संस्थानों के माध्यम से-40,000/- रूपये01 वर्षस्नातक/ स्नातक के अंतिम दो वर्षों में अध्ययनरत एवं कक्षा 12वीं में 55% अंक
RPSC द्वारा आयोजित सब इंस्पेक्टर एवं पूर्व में 3600 ग्रेड पे तथा वर्तमान में पे मेट्रिक्स में पे लेवल-10 एवं ऊपर की अन्य परीक्षाएँ20,000/- रूपये06 माहस्नातक/ स्नातक के अंतिम दो वर्षों में अध्ययनरत एवं कक्षा 12वीं में 50% अंक800
SC-130
ST-100
OBC-170
MBC-40
EWS-40
Others-280
REET परीक्षा15,000/- रूपये04 माहB.Ed./ STC एवं कक्षा 12वीं में 50% अंक1500
SC-240
ST-180
OBC-315
MBC-75
EWS-150
Others-540
RSSB द्वारा आयोजित परीक्षा जैसे-पटवारी, कनिष्ठ सहायक हेतु, पूर्व की ग्रेड पे 2400 तथा वर्तमान पे लेवल 5 से ऊपर तथा पूर्व की ग्रेड पे 3600 एवं पे लेवल 10 से कम की अन्य परीक्षाएँ10,000/-रूपये04 माहस्नातक में अध्ययनरत/ 12वीं तथा RSCIT अथवा कंप्यूटर कोर्स या O Level/ उच्च स्तरीय कंप्यूटर सर्टिफिकेट/ डिप्लोमा एवं कक्षा 12वीं में 50% अंक1200
SC-195
ST-145
OBC-255
MBC-60
EWS-120
Others-425
कांस्टेबल परीक्षा10,000/-रूपये04 माहकक्षा 10वीं में 50% अंक800
SC-130
ST-100
OBC-170
MBC-40
EWS-80
Others-280
इंजीनियरिंग/ मेडिकल प्रवेश परीक्षाप्रतिष्ठित संस्थानों के माध्यम से-
70,000/- रूपये
02 वर्ष (कक्षा 11वीं एवं 12वीं में)कक्षा 10वीं में 70% अंक4000
SC-640
ST-480
OBC-840
MBC-200
EWS-400
Others-1440
अन्य संस्थानों के माध्यम से-55,000/- रूपये02 वर्ष (कक्षा 11वीं एवं 12वीं में)कक्षा 10वीं में 60% अंक
क्लैट परीक्षाप्रतिष्ठित संस्थानों के माध्यम से-
40,000/- रूपये
01 वर्षकक्षा 10वीं में 60% अंक1000
SC-160
ST-120
OBC-210
MBC-50
EWS-100
Others-360
अन्य संस्थानों के माध्यम से-25,000/- रूपये01 वर्षकक्षा 10वीं में 50% अंक

NOTE- परिक्षार्थियों की मेरिट का निर्धारण उक्त तालिका में वर्णित न्यूनतम योग्यता (12वीं अथवा 10वीं) में प्राप्त अंको के आधार पर किया जायेगा | मेरिट निर्धारण के लिए 10वीं अथवा 12वीं बोर्ड परीक्षा में CBSE बोर्ड द्वारा प्रद्त प्रतिशत को 0.9 के गुणांक से गुणा किया जाएगा, जबकि RBSE बोर्ड के 10वीं /12वीं में प्राप्त प्रतिशत को यथावत रखा जाएगा |

Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme हेतु पात्रता

  • आवेदक राजस्थान राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए.
  • आवेदक के परिवार की कुल वार्षिक आय 8 लाख रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए.
  • विद्यार्थियों का चयन 10वीं एवं 12वीं में प्राप्त अंकों के आधार पर होगा.
  • इस योजना का लाभ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अतिरिक्त पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थी उठा सकते है.
    • ऐसे विद्यार्थी जिनके माता-पिता राज्य सरकार के कार्मिक के रूप में पे-मेट्रिक्स लेवल-11 तक का वेतन प्राप्त कर रहे हैं, वे भी योजना के लिए पात्र होंगे।

Rajasthan Ambedkar DBT Voucher Yojana

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना राजस्थान के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • शैक्षणिक दस्तावेज
  • आय प्रमाण-पत्र
  • जाति प्रमाण-पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

राजस्थान मुख्यमंत्री अनुप्रति योजना में आवेदन कैसे करें?

इच्छुक विद्यार्थी जो Mukhymantri Anuprati Coaching Scheme में रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा. राजस्थान सरकार द्वारा अभी इस योजना की घोषणा की गयी है. अभी इस योजना में आवेदन सम्बन्धी कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किये गए है. जैसे ही सरकार द्वारा आवेदन सम्बन्धी दिशानिर्देश जारी किये जाएंगे, हम आपको इस लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे.

Important Link

Official Notification

यह भी देखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *