UP Mission Shakti 3.0: यूपी मिशन शक्ति अभियान लाभ, विशेषता व कार्यान्वयन प्रक्रिया

By | September 7, 2021

UP Mission Shakti 3.0: महिलाओं को आत्मनिर्भर, स्वाबलंबी, सुरक्षित एवं महिलाओं के अधिकारों की रक्षा करने के लिए केंद्र एवं राज्य स्तर पर कई प्रकार की परियोजनाओं एवं अभियानों का संचालन किया जाता है। इसके अलावा महिलाओं के सामाजिक एवं आर्थिक उत्थान के लिए कई प्रकार की सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का संचालन किया जाता है। आज इस लेख में हम आपको महिलाओं के हितों की रक्षा करने एवं उन्हें आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लांच की गयी यूपी मिशन शक्ति 3.0 के बारे में जानकारी साझा कर रहें हैं। यूपी मिशन शक्ति अभियान क्या है, इस योजना के उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया क्या है? आदि सवालों के जवाब आपको इस लेख के अंतर्गत मिल जायेंगे, इसलिए आपसे अनुरोध है की, लेख को अंत जरुर पढ़ें।

UP Mission Shakti 3.0

यूपी मिशन शक्ति अभियान की शुरुआत वर्ष 2020 में की गयी थी। अब इस अभियान के तीसरे चरण यानि UP Mission Shakti 3.0 की शुरुआत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 21 अगस्त 2021 को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान लखनऊ में की गयी। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने एवं उन्हें आत्न्मिर्भर, स्वावलंबी एवं सशक्त बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के जागरूकता एवं ट्रेनिंग कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। यूपी मिशन शक्ति अभियान को उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में लांच की गयी थी, इस अभियान के पहले चरण को दो भागों में विभाजित किया गया पहला मिशन शक्ति एवं दूसरा ऑपरेशन शक्ति है।

up mission shakti

यूपी मिशन शक्ति अभियान के तहत किया जायेगा जागरूकता एवं ट्रेनिंग कार्यक्रमों का आयोजन

महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक, आत्मनिर्भर, सुरक्षित, सशक्त, स्वाबलंबी एवं सरकार द्वारा आरम्भ की गयी विभिन्न प्रकार की लाभार्थिपरक योजनाओं से जोड़ने के लिए यूपी मिशन शक्ति अभियान के तहत प्रदेश के विभिन्न जिलों में जागरूकता एवं ट्रेनिंग कार्यक्रमों का संचालन किया जाएगा। इन कार्यक्रमों में भाग लेकर महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होंगी, जिससे उनके अधिकारों का हनन नहीं होगा। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन मिशन मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत किया जाता है।

Key Highlights Of UP Mission Shakti 3.0

योजना का नाम मिशन शक्ति अभियान 3.0
राज्यउत्तर प्रदेश
सम्बंधित विभागमहिला एवं बाल विकास विभाग
उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना
लाभार्थी उत्तर प्रदेश की महिलाएं
आधिकारिक वेबसाइट जल्द लांच की जाएगी।

यूपी मिशन शक्ति अभियान 3.0 के अंतर्गत देय कुछ विशेष लाभ

UP Mission Shakti 3.0 के कार्यक्रम के दौरान सुमंगला योजना के तहत 1.55 लाख बेटियों के खाते में 30.12 करोड़ रुपए भेजे जाएंगे। मुख्यमंत्री निरीक्षक महिला पेंशन योजना के 29.68 लाख महिलाओं के खाते में 451 करोड रुपए की राशि का हस्तांतरण किया जाएगा। 59 ग्राम पंचायत भवनों में मिशन शक्ति कक्ष की स्थापना की जायेगी। 1.73 लाख से अधिक नए लाभार्थियों को इस अभियान के तहत शामिल किया जाएगा। इसके अलावा 84.79 करोड रुपए की लागत से 1286 थानों में पिंक टॉयलेट का निर्माण भी किया जाएगा इसके साथ ही महिला बटालियन के लिए 2982 पदों में विशेष भर्ती भी की जाएगी, एवं महिलाओं को विभिन्न प्रकार के रोजगारपरक कार्यक्रमों में जोड़ा जाएगा एवं कौशल विकास किया जाएगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

उत्तरप्रदेश मिशन शक्ति अभियान 3.0 का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा इस अभियान को लांच करने का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना है। इस अभियान के अंतर्गत महिलाओं को उनके अधिकारों से जागरूक करने के लिए यूपी के विभिन्न जिलों एवं प्रदेशों में जागरूकता एवं ट्रेनिंग प्रोग्राम का संचालन किया जाएगा। यूपी मिशन शक्ति अभियान 3.0 को प्रदेश के 75 जिलों में आरम्भ किया जा चुका है एवं इस योजना की संचालन की अवधि 6 महीने निर्धारित की गयी है।

इस योजना को उत्तर प्रदेश सरकार ने दो चरणों में विभाजित किया है, जो की UP Mission Shakti 3.0 एवं ऑपरेशन शक्ति है। मिशन शक्ति के अंतर्गत महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जाएगा एवं ऑपरेशन शक्ति के अंतर्गत जो व्यक्ति महिलाओं से दुर्व्यवहार करता है उन्हें सजा देने का प्रावधान है।

UP Mission Shakti 3.0 के लाभ एवं विशेषताएं

  • यूपी मिशन शक्ति अभियान की शुरुआत मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी ने वर्ष 2020 में की थी।
  • इस अभियान के अंतर्गत महिलाओं के अधिकारों की रक्षा की जायेगी, एवं उन्हें आत्मनिर्भर, सशक्त, एवं स्वावलंबी बनाया जाएगा।
  • उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में इस योजना को लांच किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से प्रदेश में विभिन्न प्रकार के जागरूकता एवं ट्रेनिंग कार्यक्रम आयोजित किये जाएगा जिससे महिलाओं को आत्न्मिर्भर एवं सुरक्षित रखा जा सके।
  • यूपी सरकार अब इस अभियान का तीसरा चरण लांच करने जा रही है।
  • UP Mission Shakti 3.0 के तीसरे चरण का शुभारम्भ 21 अगस्त 2021 को लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में हुआ है।
  • इस अभियान के पहले एवं दुसरे चरण में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 47 जिलों की 75 महिला अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित किया जाएगा।
  • मिशन शक्ति अभियान 3.0 के कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री निरीक्षक पेंशन योजना की 29.68 लाख महिलाओं के खाते में ₹451 की राशि हस्तांतरित की जाएगी।
  • 1.73 लाख से अधिक नए लाभार्थियों को भी इस अभियान से जोड़ा जाएगा।
  • मुख्यमंत्री सुमंगला योजना की 1.55 लाख बेटियों के खाते में इस योजना के कार्यक्रम के दौरान 30.12 करोड़ रुपए हस्तांतरित किए जाएंगे।
  • इस अभियान के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के 59 ग्राम पंचायत भवनों में मिशन शक्ति कक्ष की स्थापना की जायेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत 1286 थानों में पिंक टॉयलेट का निर्माण किया जाएगा, जिसमे 84.79 करोड़ रुपए की लागत आएगी।
up mission shakti

यूपी मिशन शक्ति 3.0 की पात्रता

  • आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक महिला होनी चाहिए।

UP Mission Shakti 3.0 हेतु महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड।
  • निवास प्रमाण पत्र।
  • राशन कार्ड।
  • आय प्रमाण पत्र।
  • आयु प्रमाण पत्र।
  • बैंक खाता विवरण।
  • पासपोर्ट साइज फोटो।
  • मोबाइल नंबर।

यूपी मिशन शक्ति अभियान 3.0 की आवेदन प्रक्रिया

इच्छुक एवं पात्र महिला उम्मीदवार जो UP Mission Shakti 3.0 में आवेदन करना चाहती है, उन्हें अभी कुछ समय इंतज़ार करना होगा। उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा अभी इस योजना की घोषणा की गयी है। अभी यूपी मिशन शक्ति 3.0 में आवेदन के सम्बन्ध में कोई आधिकारिक दिशानिर्देश जारी नहीं किये गए है, और न ही कोई ऑफिसियल वेबसाइट लांच की गयी है। जैसे ही राज्य सरकार इस योजना में आवेदन से सम्बंधित कोई दिशानिर्देश जारी करती है, तो हम आपको इस लेख के माध्यम से सूचित कर देंगे। इसलिए योजना से जुडी किसी भी नवीनतम अपडेट के लिए हमारे इस लेख के साथ जुड़े रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *