उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 एप्लीकेशन फॉर्म, ऐसे कर सकते हैं, ऑनलाइन आवेदन

By | April 1, 2021

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021: गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को सरकार देगी पोषण सामग्री एवं कपडे, ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशु की उचित देखभाल के साथ-साथ नवजात शिशुओं की साफ़ सफाई व उचित पोषण के लिए उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 की शुरुआत की है. इस योजना के अंतर्गत गर्भवती माँ एवं नवजात शिशु दोनों के लिए अलग-अलग किट तैयार की जायेगी. Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2021 से सम्बंधित अन्य जानकारी प्राप्त करने के लिए इस आर्टिकल को आखिर तक जरूर पढ़ें.

Table of Contents

Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2021

इस योजना को लागू करते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह ने ने कहा की स्वस्थ समाज के लिए गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं की उचित देखभाल करने की आवश्यकता है. Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2021 के अंतर्गत उत्तराखंड राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं के बेहतर स्वास्थय के लिए उनकी उचित देखभाल एवं आवश्यक पौष्टिक भोजन प्रदान किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana (PMMVY): गर्भवती महिलाओं को सरकार देगी 6000 रूपए, ऐसे करें आवेदन

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021

जैसा की आप सभी भली-भांति जानते है की गर्भावस्था का दौरान महिलाओं को संतुलित आहार की जरुरत होती है, लेकिन कई परिवार ऐसे है जिनकी आर्थिक स्थिति काफी खराब होती है, जिसके कारण वह गर्भवती महिलाओं को उचित पोषण की व्यवस्था नहीं कर पाते हैं, जिससे गर्भवती महिलाओं एवं उनके शिशु का विकास नहीं हो पाता है. पौष्टिक आहार न मिलने के कारण कई गर्भवती महिलाओं एवं उनके शिशु की मृत्यु तक हो जाती हैं. इन्हीं सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड सरकार ने सौभाग्य योजना 2021 की शुरुआत की है.

Key Highlights Saubhagyawati Yojana Uttarakhand in Hindi

योजना का नाम उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना
किसके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा
लाभार्थी शुराज्य की गर्भवती महिलाएं एवं नवजात शि
उद्देश्य गर्भवती महिला एवं नवजात शिशु की उचित देखभाल करना
लाभ पोषण के लिए किट और कपड़े प्रदान करना

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 का उद्देश्य

इस योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य जच्चा-बच्चा की उचित देखभाल करना है, ताकि मातृ मृत्यु दर एवं शिशु मृत्यु दर में कमी की जा सके. UK Sobhagyavati Scheme 2021 के अंतर्गत गर्भवती माँ एवं नवजात शिशु की देखभाल, व बेहतर स्वास्थय हेतु उन्हें आवश्यक पौष्टिक भोजन प्रदान किया जाएगा, एवं शिशुओं की स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाएगा.

सौभाग्यवती योजना उत्तराखंड के लाभ

  • इस योजना का लाभ गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को प्रदान किया जाएगा.
  • इस योजना के जरिये गर्भवती माँ एवं शिशु की उचित देखभाल सुनिश्चित की जायेगी, एवं उनके अच्छे स्वास्थय के लिए पौष्टिक भोजन प्रदान किये जाएगा.
  • इस स्कीम के अंतर्गत साफ़-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा हैं.
  • Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2021 के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुआओं की साफ़-सफाई एवं पोषण के लिए किट एवं कपडे राज्य सरकार द्वारा प्रदान किये जाएंगे.
  • इस योजना के जरिये गर्भवती माँ एवं शिशु की उचित देखभाल की जायेगी.
  • इस मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी आएगी.

यह भी पढ़ें: किसानों को मिलेंगे 15000 रूपए तीन किस्तों में PM Kisan Samman Nidhi Yojana

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना में गर्भवती महिलाओ के लिए किट में आइटम

इस योजना के संचालन महिला एवं बाल विकास अधिकारित विभाग द्वारा किया जा रहा है, जिसके अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को सौभाग्यवती योजना के तहत दिए जाने वाली किट में निम्नलिखित आइटम्स होंगे:-

250 बादाम गिरी, सुखी खुमानी, अखरोट500 ग्राम छुआरा02 कॉटन गाउन, साड़ी, सूट
01 शॉल गर्म फुल साईज01 स्कॉर्फ कॉटन, गर्म स्टेन्डर्ड साईज 02 जोड़े जुराब स्टैण्डर्ड साईज
01 तौलिया बड़े साइज का02 पैकेट सैनिटरी नैपकिन (08 प्रति पैकेट)02 जोड़े बेड शीट (तकिये के कवर सहित)
01 नेल कटर01 नारियल, तिल, सरसों, चुलू का तेल200 एम.एल हैण्डवाश लिक्विड
02 कपड़े धोने का साबुन02 नहाने का साबुन

सौभाग्यवती योजना के अंतर्गत नवजात शिशुओं को दी जाने सामानों की सूची

02 जोड़े शिशु के कपड़े (सूती या गर्म-मौसम के अनुसार) टोपी और जुराब सहित01 पैकेट (10 पीस) कॉटन डाइपर01 बेबी तौलिया कॉटन सॉफ्ट
03 बेबी साबुन01 तेल01 पाउडर
 02 बेबी ब्लैंककेट गर्म अथवा कॉटन (मौसम अनुसार)01 रबर शीट 01 समस्त सामग्री पैक करने हेतु सूती बैग शामिल रहेगा

पात्रता

  • आवेदक उत्तराखंड राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए.
  • इस का लाभ गर्भवती महिला एवं नवजात शिशुओं को प्रदान किया जाएगा.
  • 18 साल से ऊपर की गर्भवती महिला इस योजना के पात्र है.
  • इस योजना का लाभ आयकर देने वाले तथा सरकारी सेवा में शामिल महिलाओं को प्रदान नहीं किया जाएगा.

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • गर्भवती महिला की आयु प्रमाण पत्र (जैसे जन्म प्रमाण पत्र या 10 वीं कक्षा की मार्कशीट)
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 में आवेदन कैसे करें?

राज्य के इच्छुक उम्मीदवार जो इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा. अभी Uttarakhand Saubhagyawati Yojana 2021 में आवेदन के सम्बन्ध में कोई आधिकारिक दिशानिर्देश जारी नहीं किये गए हैं, और न ही कोई ऑफिसियल वेबसाइट लांच की गयी है. जैसे ही उत्तराखंड सरकार द्वारा इस योजना में आवेदन के सम्बन्ध में कोई आधिकारिक दिशानिर्देश जारी किये जाएंगे हम आपको इस लेख के माध्यम से अवगत करा देंगे. उसके बाद आप उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना में आवेदन कर इस योजना का लाभ ले सकते हैं.

टोल फ्री नंबर

यदि आपको सौभाग्यवती योजना में आवेदन करने में या आपको इस योजना के संबंध में और अधिक जानकारी चाहिए तो आप टोल फ्री नंबर 0135-2775814 पर कॉल कर सकते है.

यह भी देखें:

स्मार्ट राशन कार्ड योजना 2021 UttraKhand – Smart Ration Card ऑनलाइन आवेदन पत्र

भूलेख उत्तराखंड: खसरा खतौनी, भू नक्शा/भू अभिलेख, जमाबंदी नकल देवभूमि उत्तराखंड

FAQ,s (Frequently Asked Question)

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना क्या है ?

इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं के लिए उचित पोषण के लिए किट एवं साफ़-सफाई की व्यवस्था की जायेगी।

उत्तराखंड सौभाग्यवती योजना 2021 का मुख्य उद्देश्य क्या है ?

इस योजना का मुख्य उद्देश्य गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं के उचित पोषण की व्यवस्था करना तथा मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करना है.

सौभाग्यवती योजना से जुडी ऑफिसियल वेबसाइट क्या है ?

इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट अभी लांच नहीं की गयी है.

सौभाग्यवती योजना 2021 के अंतर्गत आवेदन करने वाली महिला की आयु कितनी होनी चाहिए?

इस योजना के अंतर्गत गर्भवती महिला की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *